रीवा

रीवा : आरक्षक ने कहा कि रुपये दो अन्यथा दर्ज होगा मामला, थाना प्रभारी बोले आरक्षक सर्वेसर्वा

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:44 AM GMT
रीवा : आरक्षक ने कहा कि रुपये दो अन्यथा दर्ज होगा मामला, थाना प्रभारी बोले आरक्षक सर्वेसर्वा
x
रीवा / Rewa News ; जिले में पुलिस व्यवस्था किस तरह काम कर रही है इसका उदाहरण रायपुर कर्चुलियान में पदस्थ एक आरक्षक की करतूत से लगाया जा सकता

रीवा : आरक्षक ने कहा कि रुपये दो अन्यथा दर्ज होगा मामला, थाना प्रभारी बोले आरक्षक सर्वेसर्वा

रीवा / Rewa News ; जिले में पुलिस व्यवस्था किस तरह काम कर रही है इसका उदाहरण रायपुर कर्चुलियान में पदस्थ एक आरक्षक की करतूत से लगाया जा सकता है। जिले में निरीक्षक स्तर का थाना रायपुर कर्चुलियान में दारोगा थाना प्रभारी बने हुए है, इन प्रभारी दारोगा की सरपरस्ती में हमराह आरक्षक जयप्रकाश उर्फ़ बबुआ एक युवक को फर्जी मामला दर्ज कर देने की धमकी देते हुए 15 हजार रुपये की डिमांड कर दी, रुपये नहीं देने पर फर्जी मामला दर्ज करने की धमकी देने लगे।

जानकारी के मुताविक रायपुर कर्चुलियान थाना क्षेत्र के अजय तिवारी निवासी सुरसा के घर में बीते दिनों आग लग गई थी तब पीड़ित अजय तिवारी रायपुर थाना जाकर अज्ञात के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करवाया तब पुलिसकर्मियों ने पूछा की किसी पर तुमको शक हो या पुराना विवाद रहा हो तो बताओ तब पीड़ित अजय द्वारा बोला गया कि मेरा किसी से विवाद नही है और मालूम नही कौन आग जनी की घटना किया होगा लेकिन हां रायपुर के ही रहने वाले एक व्यक्ति से वर्षो पूर्व जमीनी विवाद का मामला कोर्ट में चल रहा है लेकिन वो यह घटना नही कर सकते मुझे भरोसा है और वह काफी पैसे वला भी है उनके कई डम्फर भी चलते हैं, बस यही बात थाना प्रभारी के दिमाग में बैठ गई और फिर क्या था।

यह भी पढ़े : रीवा : रोजगार पाने का आज है मौक़ा! Flipkart, HDFC समेत 22 कंपनियां दे रही हैं Job

रीवा : आरक्षक ने कहा कि रुपये दो अन्यथा दर्ज होगा मामला, थाना प्रभारी बोले आरक्षक सर्वेसर्वा

आरक्षक को जारी कर दिए फरमान की बुलाओ थाना प्रभात मिश्रा से फोन पर आरक्षक ने बोला की थाने आ जाओ तुम्हरे बिरुद्ध मामला दर्ज हुआ है तो उस समय प्रभात मिश्रा शंकरगढ़ में थे और बोले की आप फोन पर बताइये मैं बाहर हु तब आरक्षक द्वारा बोला गया कि अगर बचना चाहते हो तो पैसे की व्यवस्था करके दे दो प्रभारी साहब बोले है और 15 हजार रुपये में बात तय हो गई लेकिन इसके बाद प्रभात मिश्रा फरियादी से बात किये तो पता चला की थाने में कोई भी शिकायत नही दर्ज करवाई गई है , इसके बाद प्रभात आरक्षक से बोले की पैसा नही दूंगा, मेरा नाम नही है साहब से बात करवाओ तब आरक्षक ने थाना प्रभारी मृगनेंद्र सिंह से बात किये तो उनका दो जबाब था कि सब कुछ जयप्रकाश बबुआ ही देखते हैं इनसे बात कर लो और जो बोले वह करो फिर लगातार थाने से आरक्षक का फोन आने लगा की साहब फर्जी मुकदमा दर्ज कर रहे है इसलिए पैसे की व्यवस्था जल्द कर ही लो।

रीवा की अन्य खबरे :

रीवा : अपनी पार्टी की सरकार को घेरने की तैयारी में भाजपा विधायक, कहां उपेक्षित है विंध्य…

नेताजी के यहां से निकली नशीली टेबलेट,सिरप और गांजा,पूछताछ कर रही पुलिस : रीवा न्यूज़

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:

Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Next Story