NEWS/83-BLACK_FUNGUS.jpg

REWA NEWS: जिले में ब्लैक फंगस का कहर जारी, इलाज में परेशानी, उपकरण और दवाओं की कमी

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
04 Jun 2021

रीव / Rewa News: श्याम शाह मेडिकल कालेज अंतर्गत संचालित संजय गांधी स्मृति चिकित्सालय में ब्लैक फंगस रोगियों का इलाज किया जा रहा है। हालत यह है कि कोरोना का कहर कम होने के बाद ब्लैक फंगस के रोगी सामने आ रहे है।

एसजीएमएच में इलाज के लिए आने वाले रोगियों को बेहतर इलाज मिले ऐसा डाक्टरों द्वारा प्रयास किया जा रहा है। लेकिन जब अस्पताल में दवा और आपरेशन के उपकरणों की कमी हो तो बेहतर इलाज की बात करना बेमानी लगता है।

इन्ही समस्याआंे को उजागर करते हुए ब्लैक फंगस प्रभारी डा सुरेन्द्र सिंह मौपाची ने एक वीडियो वायरल कर दिया। जिसके बाद कालेज के डीन डा इंदूलकर को सफाई देने के लिए सामने आना पड़ा। 

एसजीएमएच में 36 रोगी भर्ती

संजय गांधी चिकित्सालय में इस समय ब्लैक फंगस के 36 मरीज भर्ती हैं। जिनका इलाज किया जा रहा है। वही जानकारी मिली है कि 11 ब्लैक फंगस रोगियों की मौत हो चुकी है।

यह 11 मौत संजय गांधी अस्पताल द्वारा बताए जा रहे हैं। वही अगर सूत्रों की जानकारी पर भरोषा करें तो अब तक 11 नही कुल 14 मौत हो चुकी हैं।

वही वर्तमान समय में 5 गंभीर ब्लैक फंगस रोगियों को आईसीयू में रखा गया है। जिनकी बेहतर देख-रेख की जा रही है। 

क्या है वीडियो का मामला

एसएस मेडिकल कॉलेज के प्रोफसर तथा ब्लैक फंगस प्रभारी सुरेन्द्र सिंह मौपाची ने शुक्रवार की सुबह एक वीडियो जारी किया। जिसमें उन्होेने कहा कि ब्लैक फंगस के ऑपरेशन में उपकरण कम पड़ रहे है। वही जरूरी दवाओ का भी अभाव है।

साथ ही उन्होने यह भी का कि इन्ही सब कमियों की वजह से रीवा मेडिकल कॉलेज में मौतें ज्यादा हो रही। ऑपरेशन करने पुराने इंस्ट्रूमेंट है।

डीन डा इंदूलकर आये सामने

वीडियो जारी होने के बाद एसएस मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. मनोज इंदुलकर सामने आये और सफाई दी है। उन्होंने कहा कि जो वीडिया वायरल हो रहा है।

दरअसल वह वीडियो ऐसा नहीं है। हमारे पास ऑपरेशन के इंस्ट्रूमेंट पर्याप्त, जो मौतें हुई वह नेचुरल तरीके से हो रही है। हम जटिल से जटिल ऑपरेशन भी कर मरीजों को ठीक कर चुके हैं।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER