2021/74-bandook_fire_.jpg

Rewa News : बाईकर्स गिरोह ने शहर में चलाई दनादन गोलियां, दो सगे भाईयों को बनाया निशाना, कहां से आ रहे युवाओं के हाथ असलहें, 2 CSP और 7 थाने कर रहे दिन रात काम

RewaRiyasat.Com
रीवा रियासत डिजिटल
19 Jul 2021

रीवा (Rewa News) : बाईकर्स गिरोह ने एक बार फिर शहर में सोमवार की सुबह गोली चलाकर दहशत फैला दी है। बदमाशों ने नकाब लगाकर घटना को अंजाम दिया है। घटना शहर के सिटी कोतवाली थाना अंतर्गत निपनिया स्थित देशी शराब दुकान के पास की है। पूरी वारदात सीसीटीव्ही कैमरे में कैद है और उसके आधार पर पुलिस काम कर रही है।  गोली लगने से जावेद खान निवासी तरहटी घायल हो गया। उसे ईलाज के लिये संजय गांधी अस्पताल ले जाया गया है। वही सूचना पाकर पहुची पुलिस घटना को लेकर जांच कर रही है।

डंडा से किया हमला फिर चलाई गोली

बताया जा रहा है कि बाइक से जा रहे दो भाई तरहटी निवासी जावेद खान और आरिफ खान पर अलग-अलग बाईक से पहुचें 10 से 12 की संख्या में बदमाशो ने पहले डंडा से हमला करके बाइक से नीचे गिर दिये और फिर गोली चला दिये। गोली जावेद खान के पेट और पैर में लगी है। घायल के भाई आरिफ ने बताया कि हमलाबरो ने पहले हवा में दो गोलियां चलाई और फिर दो गोलिया उसके भाई जावेद को मारी हैं। जिसमें से एक गोली पेट में तथा दूसरी गोली पैर में लगी है।  

ड्यूटी करने जा रहे थें दोनो भाई

आरिफ खान ने बताया कि वे दोनों भाई एक ही बाइक से सुबह साढ़े 8 बजे उद्योग बिहार स्थित फैक्ट्री में डूयुटी करने के लिये जा रहे थे। निपनिया शराब दुकान के पास यह हमला किया गया है।

कहाँ से आ रहे असलहें

शहर में जिस तरह से भाई गिरी का खेल चल रहा है और युवा असलहें लेकर घूम रहें है। इससे पुलिस की जांच प्रक्रिया पर सवाल उठ रहे है। शहर के लोग अब चर्चा करने लगे है कि आखिर कार असलहें कहां से आ रहे और पुलिस ऐसे लोगो तक क्यू नही पहुच पा रही है। 
ज्ञात हो कि एक पखवाड़े के अंदर शहर में गोली चलने की आधा दर्जन से ज्यादा वारदातें हो चुकी है। इसके बाद भी पुलिस घटनाओं पर लगाम नही लगा पा रही है।

2 CSP और 7 थानों का बल रात दिन कर रहा काम

शहर में 7 थानें संचालित है। तो वही दो सीएसपी तथा अन्य पुलिस अधिकारी अपराध नियंत्रण के लिये दिन रात काम कर रहे है। इसके बाद भी शहर में भाई गिरी चरम पर हैं। बाईकस गिरोह ताबड़तोड गोलिया चला रहा है। ऐसे लोगों तक असलहें कहा से पहुच रहे है, शायद इस दिशा में पुलिस काम करना नही चाहती या फिर इसे नजर अंदाज कर रही है, यह सवाल उठ रहा है, बहरहाल पुलिस इस घटना के बाद आगे क्या रणनीति बनाती है। यह तो आने वाला वक्त ही बतायेगा।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER