रीवा

रीवा: श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण को लेकर स्वयंवर विवाह घर में हुई बैठक...

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:43 AM GMT
रीवा: श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण को लेकर स्वयंवर विवाह घर में हुई बैठक...
x
रीवा: श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण को लेकर स्वयंवर विवाह घर में हुई बैठक...रीवा: नगर के स्वयंवर विवाह घर मे श्री राम जन्मभूमि पर

रीवा: श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण को लेकर स्वयंवर विवाह घर में हुई बैठक…

रीवा: नगर के स्वयंवर विवाह घर मे श्री राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के विषय पर चिकित्सक श्रेणी की बैठक आयोजित किया गया। बैठक की अध्यक्षता रीवा शहर के विख्यात चिकित्सक डॉ पुष्पेन्द्र शुक्ला के द्वारा की गई जिसमें मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के महाकौशल प्रान्त के सह प्रान्त कार्यवाह उत्तम बनर्जी रहे।

उत्तम के द्वारा अपने उदबोधन का प्रारंभ मकर संक्रांति की शुभकामना के साथ कि गयी। मुख्य वक्ता के द्वारा श्री राम जन्मभूमि के विध्वंश एवं उसके बाद के कालक्रम में घटित घटनाओं का विस्तृत विवेचन करते हुए बताया गया कि श्री राम जन्मभूमि के लिए विगत 500 वर्षों में आजादी के पूर्व 77 बार युद्ध हुए हिन्दू समाज के लाखो की संख्या में लोगो ने बलिदान दिया।

बलिदान देने वालो में जहाँ एक ओर युवा रहे तो दूसरी ओर समाज का साधु संत वर्ग एवं मातृशक्ति का भी बराबर योगदान रहा। आजादी के बाद भी श्री राम लला के 1949 में प्रकटीकरण के बाद भी पूर्ववर्ति सरकारों ने भी मंदिर निर्माण के मार्ग में बारम्बार अड़चनें लगाई।

अयोध्या का जश्न रीवा में भी, जगमग हो उठा शिल्पी प्लाजा..

कारसेवा के लिए जाने वाले राम भक्तो में रास्ते मे अवरोध पैदा करना एवं उनपर गोली चलाना यह आजाद भारत मे ही हुआ। यहाँ तक कि प्रभु श्री राम के अस्तित्व पर ही न्यायालय में प्रश्नचिन्ह लगाते हुए एक काल्पनिक चरित्र के रूप में प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया। किन्तु हमसभी आज उस सौभाग्यशाली पीढ़ी के व्यक्ति हैं जिन्हे सभी उतार चढ़ाव के पश्चात यह दिन देखने को मिल रहा हैं जब हम इस भारत देश के आराध्य एवं प्रेरणा स्रोत प्रभु श्रीराम के मंदिर निर्माण अपने आँखों के सामने होते हुए देख रहे हैं।

उनके द्वारा प्रभु श्री राम के मंदिर निर्माण में समाज के अन्य श्रेणियों के सदृश्य चिकित्सक श्रेणी से यह आह्वान किया गया कि आप सभी के द्वारा भी प्रभु श्री राम के भव्य मंदिर के निर्माण में तन, मन एवम धन से सहयोग किया जाएगा। बैठक में विभाग के पालक रमेश साहू, विभाग प्रचारक सुरेंद्र सिंह, सूरज नारायण पांडेय, डॉ लोकेश, डॉ आशुतोष, पीयूष त्रिपाठी एवं साथ रीवा नगर के विख्यात चिकित्सक डॉ एन सी चौरसिया, डॉ यत्नेश त्रिपाठी, डॉ राहुल मिश्रा, डॉ एस एन तिवारी, आदि लगभग 100 चिकित्सक बंधु उपस्थित रहे।

आखिरकार रीवा पहुंची कोरोना वैक्सीन, इस तरह किया जाएगा वितरण…

कलेक्ट्रेट में पदस्थ 2 बाबुओं ने खेला ऐसा खेल की कभी आपने सोचा न होगा, खुद के खाते में कर लिया 2 करोड़ ट्रांसफर फिर…

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

Next Story