vindhyacoronabulletin/Rewa-3 (1).jpg

REWA : जिला योजना समिति की बैठक में खुला समस्याओं का पिटारा, सड़क, बिजली, पानी का मुद्दा छाया रहा

RewaRiyasat.Com
News Desk
10 Jul 2021

रीवा। कोरोना संक्रमण के चलते लंबे समय बाद जिला योजना समिति की बैठक शनिवार को आयोजित हुई। बैठक में सड़क, बिजली, पानी का मुद्दा चर्चा का केंद्र रहा। जिले के सभी विधायकों ने बिजली कटौती और अधूरे सड़क निर्माण को लेकर बात रखी। बैठक प्रभारी मंत्री  बिसाहूलाल सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

इस मौके पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिला योजना समिति की बैठक में जिले के विकास से जुड़े सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओं की चर्चा की जायेगी। समिति के सभी सदस्यों के सुझावों के आधार पर निर्माण कार्यों की कार्ययोजना बनेगी। सबकी सहमति और सहयोग से जिले में विकास के कार्य कराये जायेंगे। शासन की योजनाओं का अधिकतम लाभ आमजनता तक पहुंचे तथा गरीबों के कल्याण की योजनाओं का लाभ हर गरीब को मिले इसे सुनिश्चित किया जायेगा।

बैठक में जलजीवन मिशन के कार्यों, प्रमुख सड़कों के निर्माण तथा रखरखाव एवं प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के कार्यों की समीक्षा की गई। बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि सभी अधिकारी अपने क्षेत्र के निर्माण कार्यों की सूची विधायकगणों तथा जिला योजना समिति के सदस्यों को उपलब्ध करायें। जनप्रतिनिधिगण मौके पर जाकर निर्माण कार्यों का जायजा लें। निर्माण कार्यों में किसी तरह की कमी होगी तो उचित कार्यवाही की जायेगी।

इन मार्गो का निर्माण जल्द पूर्ण करायें

कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग निर्माणाधीन सड़कों को समय-सीमा में पूरा करायें। बदवार मार्ग तथा बहेरा डाबर मार्ग को 15 दिवस में मोटरेबल बनायें। सीतापुर-रायपुर कर्चुलियान मार्ग का निर्माण दिसंबर माह तक पूरा करायें। मनगवां विधानसभा क्षेत्र में 6 प्रमुख सड़कों में किये गये मजबूतीकरण के कार्य की जांच कराकर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। सभी सड़कों तथा अन्य निर्माण कार्यों को खसरे में अनिवार्य रूप से दर्ज करायें। बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष अभय मिश्रा ने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के रखरखाव तथा चोरहटा से रतहरा सड़क का निर्माण शीघ्र पूरा कराने का सुझाव दिया। बैठक में कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी ने कहा कि सभी सड़कें खसरे में दर्ज करायी जायेंगी। शहर में निर्माणाधीन सड़क मार्ग तथा अन्य निर्माण कार्यों की प्रगति की नियमित समीक्षा की जा रही है।

हर घर में नल जल पहुंचेगा

प्रभारी मंत्री ने कहा कि जलजीवन मिशन का उद्देश्य 2024 तक हर घर में नल से जल पहुंचाना है। यह प्रधानमंत्री की तथा मुख्यमंत्री  की उच्च प्राथमिकता का कार्यक्रम है। इस योजना से रीवा जिले में 561 बड़ी नलजल योजनाओं का निर्माण कार्य प्रगति पर है। इनका कार्य समय-सीमा में पूरा करायें। सभी विधायकगण विकासखण्ड स्तरीय बैठकों में नलजल योजनाओं तथा जलजीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा करें।

विधायकों ने उठाया बिजली कटौती का मुद्दा

बैठक में विधायक गुढ़ नागेन्द्र सिंह, विधायक मऊगंज  प्रदीप पटेल, विधायक त्योंथर  श्यामलाल द्विवेदी, विधायक सेमरिया केपी त्रिपाठी तथा विधायक सिरमौर दिव्यराज सिंह ने बिजली की अघोषित कटौती एवं बिगड़े ट्रांसफर्मर समय पर न बदलने का मुद्दा उठाया। इस संबंध में प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री  के स्पष्ट निर्देश हैं कि किसी भी स्थिति में बिजली कटौती न की जाय।

सिंचाई के लिये 10 घंटे तथा घरेलू उपयोग के लिये 24 घंटे बिजली उपलब्ध करायें। इस संबंध में किसी तरह की लापरवाही सहन नहीं की जायेगी। बैठक में पूर्व मंत्री एवं विधायक रीवा राजेन्द्र शुक्ल ने कहा कि अधीक्षण यंत्री बिगड़े ट्रांसफार्मर समय पर बदलें। बिजली न मिलने से किसानों को परेशानी हो रही है।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER