Rewa_Riyasat/rewariyasat-news.jpg

भाजपा नेता के हत्यारो तक नहीं पहुंच पा रही पुलिस, अब संपत्ति कुर्क करने की तैयारी : REWA NEWS

RewaRiyasat.Com
Shashank Dwivedi
03 Apr 2021

भाजपा नेता के हत्यारो तक नहीं पहुंच पा रही पुलिस, अब संपत्ति कुर्क करने की तैयारी : REWA NEWS

रीवा (REWA NEWS) : भाजपा नेता की नृशंस हत्या के 6 नामजद आरोपियों में से पुलिस ने दो को घटना के दूसरे दिन हिरासत में ले लिया था, जबकि चार आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर हैं। जिसके चलते परिवार के लोग अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

पीडि़त परिवार के सदस्यों को मिल रही धमकियां

परिजनों का कहना है कि पुलिस ने मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया है, जिसके चलते आरोपियों के परिवार के लोग पीडि़त परिवार के सदस्यों को धमकियां दे रहे हैं। परिवार के लोगों ने फरार आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है।

ये है मामला 

गौरतलब है कि 11 मार्च कि शाम करीब 6 बजे सोहागी थाना क्षेत्र निवासी सुरेंद्र तिवारी पिता रामनरेश तिवारी उम्र 45 वर्ष निवासी नौढिय़ा हाल निवास शिवा डीह फरेंदा की आधा दर्जन लोगों ने धारदार औजार से हमला कर उस समय मौत के घाट उतार दिया था जब वह पूजा करने मंदिर जा रहे थे। परिजनों के द्वारा गांव के ही आधा दर्जन लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर कराई थी, जिसमें पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में लेकर न्यायालय में पेश कर दिया। जबकि चार अभी फरार हैं।

फरार आरोपियों में हरे कृष्ण तिवारी, कृष्ण मुरारी तिवारी, अनिरुद्ध उर्फ रिंकू तिवारी और राजी तिवारी बताए जाते हैं, जिनके गिरेबान तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंच रहे हैं। घटना को 1 माह होने को है और आरोपियों के नामजद होने के बावजूद पुलिस के द्वारा न पकड़े जाने के चलते परिवार के लोग अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

संपत्ति की होगी कुर्की 

फरार आरोपियों के संबंध में पुलिस गिरफ्तारी के लिए दबाव बना रही है। बताया जाता है कि पुलिस ने चारों फरार आरोपियों की चल अचल संपत्ति कुर्क करने का न्यायालय से वारंट प्राप्त कर लिया है, अब शीघ्र ही सभी फरार चारों आरोपियों की चल अचल संपत्ति कुर्क की जाएगी ,पुलिस ने दबाव बनाकर आरोपियों को सरेंडर करने के लिए मजबूर कर रही है.

बताया जाता है कि आरोपी थाना क्षेत्र से लगे उत्तर प्रदेश की सीमा का फायदा उठाते हुए फरारी काट रहे है । पुलिस का कहना है कि उार प्रदेश पुलिस से भी सहयोग लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER