रीवा

Rewa: कचरे और गंदगी से पटी नई सब्जी मंडी, आमदनी हजारों में लेकिन सफाई की ओर ध्यान नहीं

Sandeep Tiwari
28 July 2021 8:36 PM GMT
Rewa: कचरे और गंदगी से पटी नई सब्जी मंडी, आमदनी हजारों में लेकिन सफाई की ओर ध्यान नहीं
x
Rewa / रीवा। बीच बाजार से सब्जी मंडी हटाकर प्रशासन ने करहिया में नवीन फल एवं सब्जी मंडी का संचालन शुरू किया। लेकिन बेपरवाह मंडी प्रशासन जिसकी कमाई प्रतिदिन लाखों मे है लेकिन साफ-सफाई की ओर ध्यान नही दे रहा है। इसी का परिणाम है कि नवीन सब्जी मंडी संचालित होने के कुछ माह बाद ही बदहाली की कगार पर पहुंच गया है। कुछ दिन पूर्व कलेक्टर रीवा ने मंडी सचिव को सफाई व्यवस्था दुरूस्त रखने के निर्देश दिये थे। लेकिन सब ढोल में पेल की तरह साबित हो रहा है। मंडी बाहर से देखने में तो सुंदर दिखती है लेकिन अंदर गांदगी ही गंदगी है। कहा तो यहां तक जाता है कि मंडी आने वाले हर चार पहिया वाहनों से भीड के दौरान भी पैसा वसूल लिया जाता है लेकिन गंदगी साफ करने में मंडी प्रशासन को पसीने क्यों छूट रहे है। अगर जवाबदारी के साथ वसूली हो सकती है तो सफाई भी जवाबदारी के साथ होनी चाहिए। 

Rewa / रीवा। बीच बाजार से सब्जी मंडी हटाकर प्रशासन ने करहिया में नवीन फल एवं सब्जी मंडी का संचालन शुरू किया। लेकिन बेपरवाह मंडी प्रशासन जिसकी कमाई प्रतिदिन लाखों मे है लेकिन साफ-सफाई की ओर ध्यान नही दे रहा है। इसी का परिणाम है कि नवीन सब्जी मंडी संचालित होने के कुछ माह बाद ही बदहाली की कगार पर पहुंच गया है। कुछ दिन पूर्व कलेक्टर रीवा ने मंडी सचिव को सफाई व्यवस्था दुरूस्त रखने के निर्देश दिये थे। लेकिन सब ढोल में पेल की तरह साबित हो रहा है। मंडी बाहर से देखने में तो सुंदर दिखती है लेकिन अंदर गांदगी ही गंदगी है। कहा तो यहां तक जाता है कि मंडी आने वाले हर चार पहिया वाहनों से भीड के दौरान भी पैसा वसूल लिया जाता है लेकिन गंदगी साफ करने में मंडी प्रशासन को पसीने क्यों छूट रहे है। अगर जवाबदारी के साथ वसूली हो सकती है तो सफाई भी जवाबदारी के साथ होनी चाहिए।

महीनों से पडी गंदगी, नही हो रहा उठाव

जानकारी के अनुसार मंडी प्रशासन सफाई को लेकर गंभीर नहीं दिख रहा है। जिला कलेक्टर के बार-बार कहने के बाद भी सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है। वहीं बरसात का सीजन होने से मंडी आनेवाले किसानों तथा व्यापारियो में संक्रमण का खतरा बना हुआ है। मंडी के कचरा घर में ऐसा कचरा देखने को मिला जिसे लगता है कि महीने पहले फेंका गया था जिसका उठाव नही हो रहा है।

जगह-जगह लगा सडे़ फल सब्जी का अंबार

मंडी परिसर में समय पर सडे फल सब्जी का उठाव न होने से गंदगी का अंबार लगा हुआ हैं। यही हाल एक जगह नहीं पूरे मंडी क्षत्र में देखने को मिलता है। समय पर अगर कचरे का उठाव होने लगे तो इस गंदगी से मुक्ति मिल सकती है।

मंडी के भीतरी सड़के कचरे से सराबोर

बरसात के समय नई मंडी में गंदगी से सराबोर सड़क देखकर पुरानी मंडी की याद ताजा हो जाती है। ऐसे में मंड़ी आनेवाले लोगों का कहना है कि इतनी बडे क्षेत्र में मंडी होने के बाद भी व्यवस्था नहीं बन पा रही है। आखिर इसमें लापरवाही किसकी है। अगर समय पर कचरा उठा लिया जाये तो सड़कों को गंदगी से बचाया जा सकता है।

फल सब्जी विक्रेता संघ अध्यक्ष ने कहा

मंडी में गंदगी के सम्बंध में फल सब्जी विक्रेता संघ अध्यक्ष वीडी कछवाह से चर्चा की गई। जिस पर उनका कहना था कि मंडी के सभी व्यापारी इस गंदगी से परेशान हैं। व्यवस्था बनाने कई बार पत्र मंडी सचिव के लिखा गया। मौखिक चर्चा की गई। लेकिन कोई ध्यान नही दिया जा रहा है।

मंडी सचिव ने कहा

मंडी गंदगी की चपेट में है। व्यवस्था नहीं बन पा रही हैं। सभी परेशान हैं आखिर क्यों। जब यह सवाल मंडी सचिव विष्णु शुक्ला से किया गया तो उनका साफ कहना था कि बरसात की वजह से परेशानी हो रही है। पूरा प्रयास किया जा रहा है कि सब्जी मंडी में गंदगी न रहे। ठेकेदार के आदमी लगे हैं। पानी बारिश की वजह से कुछ गंदगी दिख रही है।

Next Story
Share it