2021/07/62-ssmc.jpg

Rewa : एसएस मेडिकल कॉलेज के कार्यकारिणी समिति की बैठक, पूर्व के 40 तथा नये 33 एजेंडों पर चर्चा

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
16 Jul 2021

रीवा के श्याम शाह चिकित्सा महाविद्यालय (Shyam Shah Medical College and Hospital) की कार्यकारिणी समिति की बैठक गुरूवार को आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता कमिश्नर अनिल सुचारी ने की। बैठक में कलेक्टर इलैयाराजा टी, मेडिकल कालेज के डीन डॉ मनोज इंदूलकर के साथ ही अधीक्षक डॉ शशिधर गर्ग, डॉ अक्षय श्रीवास्तव, डॉ नरेश कुमार बजाज, डॉ सुधाकर द्विवेदी सहित प्रदूषण बोर्ड व निर्माण एजेंसियों के अधिकारी मौजूद रहे। बैठक में पूर्व के 40 एजेंडों पर डीन ने पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया तो वहीं 33 नये एजेंडों पर गहरी चर्चा के उपरांत कई एजेंडों को सहमति के साथ स्वीकृति दे दी गई। 

सबसे ज्यादा जोर मेडिकल कालेज से बम्बद्ध अस्पतालों में इलाज की समुचित व्यवस्था पर दिया गया। वहीं बैठक में चालू वित्तीय वर्ष में 40 करोड की आय तथ 24 कारोड रूपये व्यय करने का बजट प्रस्तुत किया गया। वहीं अस्पताल की व्यवस्था पर गम्भीरता दिखाते हुए कमिश्नर अनिल सुचारी ने कहा कि मेडिकल कालेज के सभी अस्पतालों की व्यवस्था चुस्त दुरूस्त रहे। इलाज के लिए आने वाले रोगियों को समुचित उपचार की सुविधा मिले। 

वहीं अस्पताल में रोगी और डाक्टरों के बीच विवाद न हो इसका ध्यान रखना भी अस्पताल प्रशासन की जवाबदारी है। अस्पताल में आने वाले लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना भी एक इलाज का हिस्सा है। इस पर भी ध्यान देकर कार्य कारना चाहिए। जिले के साथ ही सम्भाग भर के लिए यह मेंडिकल कालेज उदाहरण बने यही सबसे बडी उपलब्धि होगी। 

न्यूरोलाजी को विशेष पैकेज

रोगी के इलाज में डाक्टर के साथ ही दवाइयों और जांच उपकरणों का विशेष महत्व हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सदस्यों ने सुपर स्पेशलिटी हॉस्टिल के न्यूरो सर्जरी विभाग को 60 लाख रुपए आपरेशन सहित अन्य खर्च स्वीकृति पर मुहर लगी है। वहीं गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी विभाग के लिए 2.61 करोड़ के प्रस्ताव पर सदस्यों ने शासन को भेजने की सहमती दी है।

इनकी होगी सेवा समाप्त

कार्यकारिणी की बैठक में अस्पताल प्रशासन की ओर से एक प्रस्ताव लाया गया। जिसमें बिन जानकारी के काफी समय अनुपस्थित चल रहे कर्मचारियों की थी। जिस पर समिति के सदस्यों ने सेवा समाप्त करने की स्वीकृति दे दी गई है। बताया गया कि मेडिकल कालेज के एनॉटामी विभाग के सहायक प्राध्यापक डॉक्टर सुगत राव व प्रदर्शक डॉ मुकेश वर्मा बिना सूचना के गायब हैं।  

अन्य विभागों को भी मिला 

सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के लिए पोर्टेबल आरओ डायलिसिस मशीन खदने के लिए 5 लाख देने पर सहमति बनी। वहीं नेत्र रोग विभाग में लेजर मशीन खरीदने के लिए सदस्यों ने 15 लाख रुपए, मेडिकल कालेज के बाउंड्रीवाल निर्माण के लिए ननि को 8 लाख देने की अनुमति दी गई है। आक्सीजन गैस खपत पर 40 लाख के भुगतान को भी अनुमति दी गई। आयुष्मान योजना के तहत सिटी स्कैन सेंटर के भुगतान को हरी झंडी दी गई।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER