रीवा

MP Police के 'दया' बन गए रीवा जिले के बैकुंठपुर थाना TI राजकुमार मिश्रा, लात मारकर दरवाजा तोड़ा और बड़ा कांड होने से बचा लिया

Aaryan Puneet Dwivedi
13 Aug 2021 6:30 PM GMT
MP Police के दया बन गए रीवा जिले के बैकुंठपुर थाना TI राजकुमार मिश्रा, लात मारकर दरवाजा तोड़ा और बड़ा कांड होने से बचा लिया
x

लाल घेरे में थाना प्रभारी राजकुमार मिश्रा और बनियान में फांसी लगाने की कोशिश करने वाला बृजलाल।

TI Rajkumar Mishra, Baikunthpur police station of Rewa became 'mercy' of MP Police, kicked and broke the door and saved him from a major incident.

मध्य प्रदेश पुलिस (MP Police) के एक इंस्पेक्टर टीवी सीरियल CID का 'दया' बन गए. न सर उन्होंने लात मारकर बंद दरवाजे को तोड़ दिया, बल्कि फांसी पर झूलने जा रहे एक शख्स को जीवनलीला समाप्त करने से बचा भी लिया.

घटना रीवा जिले के बैकुंठपुर थानाक्षेत्र की है. जहां पारिवारिक कलह के चलते बृजलाल विश्वकर्मा (30) निवासी वार्ड-15 ने शुक्रवार दोपहर 12 बजे खुद को एक कमरे में कैद कर लिया. वह कमरे में जाते वक़्त कलह से परेशान होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर लेने की धमकी देते हुए गया था.

उसने अंदर जाते ही दरवाजा बंद कर कुंडी लगा ली. कमरे के बाहर परिजन उसे बाहर निकलने का आग्रह करते रहें, लेकिन उसने अंदर से फांसी में झूलने की बात कही. जिससे घबराकर परिजनों ने डायल 100 को फोन किया.

एक लात पर ही टूट गया दरवाजा

सूचना मिलते ही थाना प्रभारी राजकुमार मिश्रा डायल 100 के दो स्टाफ कृष्ण बिहारी मिश्रा एवं रवीश कुमार मिश्रा के साथ पहुँच गए. उन्होंने आव देखा न ताव सीधे बंद दरवाजे पर जोरदार लात मार दी. पहली बार में ही दरवाजा टूट गया, और थाना प्रभारी कमरे में दाखिल होकर फांसी पर झूलने ही वाले बृजलाल विश्वकर्मा को सुरक्षित बाहर निकाल लिया. साथ ही ऐसा न करने की समझाइश देने के साथ परिजनों को भी घर में शांति और स्नेह के साथ रहने की बात कही.

Next Story
Share it