रीवा

ग्राम पंचायत में फर्जीवाड़ा, मृतक से करवाया काम, शिक्षक ने भी की मनरेगा में मजदूरी

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:44 AM GMT
ग्राम पंचायत में फर्जीवाड़ा, मृतक से करवाया काम, शिक्षक ने भी की मनरेगा में मजदूरी
x
ग्राम पंचायत में मजदूरों को काम देने के लिए संचालित मनरेगा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है।ं रोजगार सहायक की मिलीभगत से नित नये कारनामे

ग्राम पंचायत में फर्जीवाड़ा, मृतक से करवाया काम, शिक्षक ने भी की मनरेगा में मजदूरी

रीवा। ग्राम पंचायत में मजदूरों को काम देने के लिए संचालित मनरेगा भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई है।ं रोजगार सहायक की मिलीभगत से नित नये कारनामे उजागर हो रहे हैं। मजदूरों को काम मिले या नही पंचायत के सचिव, रोजगार सहायक तथा सरपंच मालामाल हेा रहे हैं।

ग्राम पंचायत में फर्जीवाड़ा, मृतक से करवाया काम, शिक्षक ने भी की मनरेगा में मजदूरी

ऐसा ही एक मामला हनुमना जनपद के ग्राम पंचायत मलैगवां का सामने आया है। जहां लकवा ग्रस्त से तीन साल तक ग्राम सड़क निर्माण में काम लिया गया। वही उसके मर जाने के बाद भी उससे 12 दिनों तक काम लिया। इसी तरह गांव में शिक्षक से भी मजदूरी करवाई गई।


इस मामले का खुलासा मंगलवार केा कमिश्नर और कलेक्टर के यहां शिकायत करने आये ग्रामीणों से हुई। ग्रामीणांे ने दिये अपने आवेदन में बताया कि मलैगवां ग्राम पंचातय के बुजुर्ग निर्भय प्रसाद की मौत 13 नवम्बर 2020 को हो गई। पंचायत के मस्टरोल पर 30 नवंबर 2020 तक काम करना दिखाया गया। बुजुर्ग निर्भय प्रसाद के नाम पर काफी दिनों से चल रहे फर्जीवाडे की जानकारी पंचायत को भी नही हुई।

खुलाश तो तब हुआ जब निर्भय प्रसाद के परिजन मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने आवेदन दिया। पंचायत ने भी 13 नवंबर 2020 दिनांक को मृत प्रमाण पत्र घोषित किया।
शिकायत प्राप्त होने के बाद कलेक्टर ने कार्रवारई का आश्वासन देते अपर कलेक्टर विकास को जांच सौंपा है।

जिले की कई पंचायतों में इसी तरह का फर्जीवाड़ा चल रहा है। जिले तथा ब्लाक में बैठे आला अधिकारी निरीक्षण के नाम पर अपनी दुकान चला रहे हैं। मामला उजागर होने पर जांच के नाम पर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं।

तांडव पर विश्व हिंदू परिषद ने दर्ज कराई FIR..

रीवा को रेलवे ने दी एक और नए ट्रेन की सौगात, लम्बे समय से थी मांग…

रीवा : आरक्षक ने कहा कि रुपये दो अन्यथा दर्ज होगा मामला, थाना प्रभारी बोले आरक्षक सर्वेसर्वा

Next Story