रीवा

COVID-19 Vaccination : रीवा में इन्हे लगाया गया पहला टीका

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:44 AM GMT
COVID-19 Vaccination : रीवा में इन्हे लगाया गया पहला टीका
x
रीवा COVID-19 से बचाव के लिये टीका करण अभियान के शुभारंभ अवसर पर COVID-19 के संकट में स्वच्छता का बीड़ा उठाने वाले तथा अपने प्राणों को संकट म

रीवा. रीवा जिला में COVID-19 से बचाव के लिये टीका करण अभियान के शुभारंभ अवसर पर COVID-19 के संकट में स्वच्छता का बीड़ा उठाने वाले तथा अपने प्राणों को संकट में डालकर प्रतिदिन सफाई करने वाले सफाईकर्मी इन्द्रजीत बकसरिया व उपेन्द्र भण्डारी को पहला टीका लगाया गया। अब वह अपने आपको पूरी तरह सुरक्षित महसूस कर रहे हैं।

रानी तालाब मोहल्ला निवासी 40 वर्षीय इन्द्रजीत बकसरिया ने बिना किसी डर या झिझक के टीका लगवाया। उन्होंने बताया कि वह संजय गांधी अस्पताल के कोविड वार्ड में ड्यूटी करते हुए सितम्बर 2020 में कोरोना पॉजिटिव हो गये थे मगर उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और ठीक होकर अपने काम मे पूरी निष्ठा से लगे हैं।

रीवा में इन्हे लगाया गया COVID-19 का पहला टीका, की वैक्सीन लगवाने की अपील

वह बताते हैं कि उनके परिवार में माँ, पिताजी, पत्नी व दो बच्चे हैं उनमें से किसी को कोरोना का संक्रमण नहीं हुआ। इसी प्रकार 32 वर्षीय गुढ़ चौराहा निवासी उपेन्द्र भण्डारी भी संजय गांधी अस्पताल के कोविड वार्ड में सफाई का काम करते हैं उन्हें भी कोरोना की वैक्सीन लगी। उनको या उनके परिवार में किसी को भी कोरोना संक्रमण नहीं हुआ है।

इन्द्रजीत व उपेन्द्र अपने को सौभाग्यशाली मानते हैं क्योंकि वह कोरोना वैक्सीन स्वेच्छा से लगवाने वाले पहले व्यक्ति बने। उन्होंने लोगों से बिना डरे वैक्सीन लगवाने की अपील की।

विधायक ने कहा : विंध्य के लिए सबकुछ समर्पित, लड़ाई जारी रहेगी

यहाँ क्लिक कर RewaRiyasat.Com Official Facebook Page Like

मऊगंज में आयोजित दिव्यांग शिविर में 457 दिव्यांगों को मिले कृत्रिम उपकरण

रीवा 16 जनवरी 2021. जिला प्रशासन, भारत सरकार की संस्था एलिम्को तथा जिला रेडक्रास समिति के संयुक्त तत्वाधान में जिले में आयोजित किये जा रहे दिव्यांग शिविरों की श्रंखला के दूसरे शिविर में आज मऊगंज में 457 दिव्यांगों को कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित किये गये।

शहीद केदारनाथ महाविद्यालय प्रांगण में आयोजित शिविर में रीवा सांसद जनार्दन मिश्र ने कहा कि दिव्यांगों के साथ संवेदनशीलता से व्यवहार किया जाये। दिव्यांग किसी की दया के मोहताज नहीं हैं। उनसे करूणा एवं सेवा भाव के साथ व्यवहार किया जाना जरूरी है।

दिव्यांगजनों के लिये यह शिविर विकास की नई राह खोलने में सहायक हो रहे हैं। दिव्यांग समाज की मुख्य धारा में शामिल होकर देश के विकास में अपना योगदान देंगे। इस अवसर पर विधायक मऊगंज प्रदीप पटेल ने कहा कि दिव्यांगों को कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण वितरित करने का जिला प्रशासन का प्रयास सराहनीय है। इससे दिव्यांगों का जीवन सरल बनेगा तथा उनकी जीवनचर्या में सुगमता होगी।

मऊगंज में आयोजित शिविर में दिव्यांगों को मोपेड ट्राई साइकिल, व्हीलचेयर, ट्राई साइकिल, वाकिंग स्टिक, स्मार्ट फोन, नेत्रहीन दिव्यांगों को ब्लाइंड स्टिक, स्मार्ट फोन तथा स्मार्ट लेन, मूक बधिर दिव्यांगों को श्रवण यंत्र तथा मानसिक दिव्यांगों को एमएसडी किट प्रदान की गई।

इस अवसर पर संयुक्त कलेक्टर शैलेन्द्र सिंह, एसडीएम एपी द्विवेदी, एलिम्को के प्रबंधक, रेडक्रास सचिव विनोद श्रीवास्तव सहित जनपद के सीईओ अरविंद तिवारी, तहसीलदार अनुराग पाण्डेय व नि:शक्त पुनर्वास केन्द्र के कर्मचारी तथा जनपद स्तरीय विभागों के अधिकारी-कर्मचारी, रेडक्रास के ब्लॉक चेयरमैन देवतादीन पाण्डेय, उपाध्यक्ष प्रदीप सिंह, सुरेन्द्र सिंह बघेल, दिव्यांगजन एवं उनके परिजन उपस्थित रहे।

Next Story