2021/07/rewa_desi_sharab_loot.jpg

रीवा में देशी शराब दुकान में 1 लाख की लूट, दरवाजा तोड़ अंदर घुसे बदमाश

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
21 Jul 2021

रीवा शहर (Rewa City) के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के घोघर मोहल्ले में संचालित देशी शराब दुकान में बीती रात लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। देर रात शराब लेने आये बदमाशों को जब दुकानदार ने शराब देने से माना कर दिया तो वह दरवाजा तोडकर अंदर प्रवेश कर गये।

बदमाशों ने कैश कांउंटर में रखे 45 हजार रूपये नगद वा 75 हजार कीमत की 15 पेटी देशी शराब लूट ले गए। दुकान मैनेजर ने इस मामले की शिकायत थाने में कर दी हैं। मैनेजर का कहना है कि नगदी और शराब की कीमत मिलाकर 1 लाख से ज्यादा की लूट की गई है। 

देर रात शराब खरीदने पहुंचे थे बदमाश

मिली जानकारी के अनुसार सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के घोघर मोहल्ले में संचालित शराब दुकान में देर रात बदमाशों ने लूट की घटना को अंजाम दिया है। बताया जाता है कि शराब खरीदने पहुंचे शरारती तत्वों ने शराब मागा। जिस पर दुकानदार ने रात ज्यादा होने पर दुकान बंद होने की बात कही। 

नहीं मिली शराब तो कर दिया हमला

घोघर शराब दुकान का मैनेजर इंद्रपाल मांझी ने थाने शिकायत करते हुए बताया कि मंगलवार की रात 11 बजे दुकान खोलकर शराब देने के लिए कुछ लेग आवाज लगा रहे थे। जब उन्हे मना कर दिया गया तो वह आक्रोशित हो गये और गाली देते हुए शरारती तत्वों ने दरवाजा तोड दिया और अंदर प्रवेश कर गये। जहां काउंटर वाले कमरे का दरवाजा तोड़कर कैश काउंटर से 45 हजार नकदी और 15 पेटी देशी शराब लूट ले गए।

डर गये कर्मचारी

दुकान मैनेजर ने बताया कि जिस समय हमला हुआ उस वक्त दुकान में कई कर्मचारी नहा कर खाना खा रहे थे। वह सभी दूसरे कमरे में थे। अचानक हुए हमले को लोग समझ नही पाये। आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए शराब और पैसा लूट ले गये।  वही सेल्स मैनो ने बताया की वह कुछ आरोपियों के पहचानते हैं। जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 5 आरोपियो को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ कर रही है। 

पुलिस बनी लापरवाह

जानकारी के अनुसार शहर के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के घोघर मोहल्ले में संचालित देशी शराब दुकान के बाहर शराबियों का जमघट लगा रहता है। हालत यह है कि लेगों के देर रात उस मोहल्ले से निकलने में डर लगता है। चारों ओर शराब की बोतल और डिस्पोजल गिलास ही दिखता हैं। इस शरारती तत्वों पर अगर समय पर कार्रवाई की जाय ते कई शहर के अंदर होने वाले अपराधों में लगाम लगाई जा सकती है।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER