राष्ट्रीय

गंगा में अस्थियां विसर्जन करने के लिये बनाया गया नियम, लोगो को करना होगा पहले यह काम, तभी मिल सकेगा प्रवेश

Shashank Dwivedi
28 July 2021 7:20 PM GMT
गंगा में अस्थियां विसर्जन करने के लिये बनाया गया नियम, लोगो को करना होगा पहले यह काम, तभी मिल सकेगा प्रवेश
x
हरिद्वार (Haridwar) : गंगा में अस्थियां प्रवाहित करने के लिए लोगो को बनाये गये नियमों का पालन करना होगा, तभी उन्हे प्रवेश मिल सकेगा। नए नियम के तहत यहां आने वाल लोगों को पहले कुछ औपचारिकताएं पूरी करनीं होंगी।

हरिद्वार (Haridwar) : गंगा में अस्थियां प्रवाहित करने के लिए लोगो को बनाये गये नियमों का पालन करना होगा, तभी उन्हे प्रवेश मिल सकेगा। नए नियम के तहत यहां आने वाल लोगों को पहले कुछ औपचारिकताएं पूरी करनीं होंगी।

कराना होगा रजिस्ट्रेशन

खबरों के मुताबिक जिलाधिकारी द्वारा जारी किए गए नए नियमों के मुताबिक अब लोगों को कोविड निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी, साथ ही उन्‍हें यहां आने से पहले हरिद्वार के स्‍मार्ट सिटी पोर्टल पर अपना रजिस्‍ट्रेशन भी कराना होगा।

वैक्‍सीन लगे हुये लोगो को प्राथमिकता

अस्थियां प्रवाहित करने के लिए आने वाले लोगों ने अगर वैक्सीन का दोनों डोज लगवा लिया है तो उन्हे अस्थियां विसर्जन में किसी भी तरह की समस्या नही आयेगी और नही उन्हे 72 घंटे पहले की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट दिखानी पड़ेगी। लेकिन वैक्सीन लगवाने वाले लोगो को भी पोर्टल पर अपना रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा। स्थानिय प्रशासन के द्वारा यह नियम 6 अगस्‍त तक के लिए लागू किया गया है।

निर्णय लेने की यह थी वजह

बताया जा रहा है कि चोरी छिपे पहुच रहे कांवड़िओं और दूसरे राज्‍यों से अस्थि विसर्जन करने के लिए आए लोगों के रैंडम सैंपल लिए गए थे, जिनमें कुछ लोग पॉजिटिव पाए गए हैं।

मीडिया खबरों के तहत जिलाधिकारी सी रविशंकर ने हरिद्वार जिले के लिए नई एसओपी जारी कर दी है. साथ ही इसका सख्‍ती से पालन करने का निर्देश दिया है. ताकि बाहर से आने वाले लोगों के कारण यहां कोविड संक्रमण फैलने का खतरा न हो।

Next Story
Share it