राष्ट्रीय

आज 8.5 करोड़ किसानों के खातों में 17 हजार करोड़ भेजेंगे पीएम मोदी, लांच करेंगे Agriculture Infrastructure Fund

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:27 AM GMT
आज 8.5 करोड़ किसानों के खातों में 17 हजार करोड़ भेजेंगे पीएम मोदी, लांच करेंगे Agriculture Infrastructure Fund
x
नई दिल्ली. देश में चलाई जा रही PM KISAN SAMMAN NIDHI YOJNA की आज क़िस्त जारी होनी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस योजना से लाभान्वित होने वाले

नई दिल्ली. देश में चलाई जा रही PM KISAN SAMMAN NIDHI YOJNA की आज क़िस्त जारी होनी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस योजना से लाभान्वित होने वाले देश भर के 8.5 करोड़ किसानों के खातों में रकम भेजेंगे. यह PM KISAN SAMMAN NIDHI YOJNA की छठी क़िस्त होगी.

इसके साथ ही पीएम मोदी आज रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (Agriculture Infrastructure Fund) के तहत एक लाख करोड़ रुपये की वित्तपोषण सुविधा को लॉन्च करेंगे. सरकार ने जुलाई में कृषि बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए रियायती ऋण का विस्तार करने के लिए एक लाख करोड़ के कोष के साथ कृषि-इंफ्रा फंड की स्थापना को मंजूरी दी थी.

कोरोना वैक्सीन 50 से 60 फीसदी प्रभावी होने पर भी लोगों को लगाई जाएंगी

जानिए क्या है एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड

एग्री-इंफ्रा फंड कोरोना वायरस संकट के प्रभाव को कम करने के लिए सरकार द्वारा जारी 20 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज का एक हिस्सा था. एग्री-इंफ्रा फंड की अवधि साल 2029 तक 10 वर्षों के लिए है.

AIF का लक्ष्य

इसका लक्ष्य ब्याज सबवेंशन और वित्तीय सहायता के जरिए पोस्ट-हार्वेस्ट मैनेजमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर और सामुदायिक खेती के लिए व्यवहार्य परियोजनाओं में निवेश के लिए मध्यम-से-लंबी अवधि के ऋण वित्तपोषण की सुविधा प्रदान करना है. इस कदम का लक्ष्य ग्रामीण क्षेत्र में निजी निवेश को बढ़ाना और अधिक रोजगार पैदा करना है.

COVID19: भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 61,537 मामले सामने आए

इस साल वितरित होगा 10 हजार करोड़ का लोन

एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड में एक लाख करोड़ रुपये बैंकों और वित्तीय संस्थाओं द्वारा प्राइमरी एग्री क्रेडिट सोसाइटीज, फार्मर ग्रुप्स, फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशंस, एग्री-उद्यमियों, स्टार्टअप्स और एग्री-टेक से जुड़े लोगों को लोन के रूप में उपलब्ध करवाए जाएंगे. लोन चार वर्षों में वितरित किये जाएंगे. मौजूदा वित्त वर्ष में10,000 करोड़ और अगले तीन वित्त वर्षों के दौरान प्रत्येक में 30,000 करोड़ रुपये का लोन वितरित होगा.

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें:
Next Story