राष्ट्रीय

कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच इस राज्य में पंचायत चुनाव का ऐलान, आदर्श आचार संहिता लागू

Rewa Riyasat News
6 Aug 2021 9:25 AM GMT
कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच इस राज्य में पंचायत चुनाव का ऐलान, आदर्श आचार संहिता लागू
x
देश में कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी के बीच राजस्थान में पंचायत चुनावों की घोषणा कर दी गई है. साथ ही 6 जिलों में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है.

देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर की चेतावनी जारी की गई है. इस बीच राजस्थान में पंचायत चुनावों की घोषणा कर दी गई है. साथ ही राज्य के 6 जिलों में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है.

राजस्थान के 6 जिलों भरतपुर, दौसा, जयपुर, जोधपुर, सवाईमाधोपुर और सिरोही के जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के निर्वाचन के लिए मतदान तीन चरणों में होगा. राज्य निर्वाचन आयोग (State Election Commission, Rajasthan) द्वारा चुनावों की घोषणा की गई है.

तीन चरणों में होंगे चुनाव

राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार राजस्थान में जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के निर्वाचन के लिए मतदान 3 चरणों में होगा. प्रथम चरण के लिए 26 अगस्त, दूसरे चरण के लिए 29 अगस्त और तृतीय चरण के लिए 1 सितंबर को सुबह 7.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक मतदान करवाया जाएगा. जबकि 4 सितंबर को संबंधित जिला मुख्यालयों पर मतगणना करवाई जाएगी.

आदर्श आचार संहिता लागू

भरतपुर, दौसा, जयपुर, जोधपुर, सवाईमाधोपुर और सिरोही के जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्यों के निर्वाचन के लिए मतदान की घोषणा हो गई है. इन सभी 6 जिलों में आदर्श आचार संहिता भी लागू हो गई है. जो चुनाव की समाप्ति तक प्रभावी रहेंगी.

11 अगस्त को जारी होगी अधिसूचना

चुनाव आयुक्त पी. एस. मेहरा के अनुसार तीनों चरणों के चुनाव के लिए 11 अगस्त को अधिसूचना जारी होगी. नाम निर्देशन पत्र 16 अगस्त 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकेंगे. 15 अगस्त को (रविवार) को नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत नहीं किए जाएंगे. नाम निर्देशन पत्रों की संवीक्षा 17 अगस्त को की जाएगी, जबकि 18 अगस्त अपरान्ह 3 बजे तक नाम वापस लिए जा सकेंगे.

चुनावी रैलियां और आम सभा प्रतिबंधित

चुनाव आयुक्त के अनुसार कोरोना वायरस के चलते बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने चुनावों में कुछ पाबंदियां भी लगा दी है. चुनाव के दौरान रैलियों और आम सभाओं को प्रतिबंधित कर दिया गया है. उम्मीदवार केवल पांच समर्थकों के साथ घर-घर जाकर जनसंपर्क कर सकेंगे.

उन्होंने बताया कि मतगणना चार सितंबर को जिला मुख्यालयों पर होगी. प्रमुख, प्रधान का चुनाव 6 सितंबर (सोमवार) को जबकि उप प्रमुख, उप प्रधान का चुनाव 7 सितंबर (मंगलवार) को होगा.

Next Story
Share it