राष्ट्रीय

MP: फेसबुक पर दोस्ती, फिर नशे में लड़की की ये हरकतें जानकर आप रह जाएंगे दंग

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:56 AM GMT
MP: फेसबुक पर दोस्ती, फिर नशे में लड़की की ये हरकतें जानकर आप रह जाएंगे दंग
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

नौकरी करने वाले माता-पिता के लिए उनके बच्चों का ख्याल रखना काफी मुश्किल साबित होता है. वहीं, आज के तकनीकी युग में सोशल मीडिया एक ऐसा माध्यम बन गया है, जिसने सही-गलत की सारी लिमिट ही क्रॉस कर दी हैं. सोशल मीडिया के अधिक उपयोग के कई नुकसान अब सामने आने लगे हैं.

मध्य प्रदेश के इंदौर में ऐसा ही एक मामला घटित हुआ है. इंदौर की रहने वाली 11वीं की छात्रा की फेसबुक पर एक युवती से दोस्ती हो गई. उस युवती ने दोस्ती की आड़ में छात्रा को ना सिर्फ नशे का आदी बना दिया, बल्कि छात्रा को ब्लैकमेल भी करने लगी. परिजनों ने डिप्रेशन से घिरी छात्रा के बारे में संजीवनी हेल्पलाइन पर जानकारी दी. इसके बाद हेल्पलाइन की टीम ने काउंसलिंग कर छात्रा की ड्रग्स की लत छुड़वाई और उसे डिप्रेशन से बाहर निकाला.

छात्रा ने कई बार काटी हाथ की नस पुलिस के अनुसार, छात्रा के माता-पिता नौकरी करते हैं. उनकी 16 वर्षीय बेटी 11वीं की छात्रा है और घर पर ज्यादातर अकेली ही रहती थी. अकेलेपन के कारण छात्रा फेसबुक पर खूब समय बिताती थी. फेसबुक पर वह एक युवती के संपर्क में आई, जिसने उसे ड्रग्स की लत लगा दी. परिजनों का कहना है कि छात्रा ने काफी समय से पढ़ाई भी बंद कर दी थी. साथ ही काफी समय से डिप्रेशन में भी थी. परिजनों ने बताया कि छात्रा ड्रग्स नहीं मिलने पर हाथ की नस काट लेती थी. वहीं, वह घर में चोरी भी करने लगी थी. छात्रा कई बार घर से रात को भाग भी जाती थी.

छात्रा को लगातार ब्लैकमेल करती थी फेसबुक फ्रैंड छात्रा ने काउंसिलिंग के दौरान बताया कि सोशल मीडिया पर दोस्त बनी युवती ने उसे ड्रग्स की लत लगवा दी. साथ ही युवती ड्रग्स लेने की बात पर उसे ब्लैकमेल भी करती थी. छात्रा ने बताया कि युवती उसे घर में चोरी करने की भी आदत लगवा दी थी. छात्रा ने बताया कि दोनों के बीच दोस्ती इतनी गहरी हो गई थी कि छात्रा उसके साथ मिलकर ड्रग्स लेने लगी. ड्रग्स की आदी छात्रा कई बार घर के सदस्यों से मारपीट भी कर देती थी. छात्रा ने बताया कि युवती ने उसे ब्लैकमेल कर कई बार रात को घर से भागने के लिए भी मजबूर किया था. वहीं हेल्पलाइन की टीम ने छात्रा को मनोचिकित्सकों की मदद से डिप्रेशन से बाहर निकाला और अब उसकी फेसबुक फ्रेंड की जांच कर रही है.

Next Story
Share it