राष्ट्रीय

चाइना भूटान में सड़क और बिल्डिंग बनाए दे रहा है, भारत की क्या तैयारी है

Abhijeet Mishra
14 Jan 2022 8:10 AM GMT
चाइना भूटान में सड़क और बिल्डिंग बनाए दे रहा है, भारत की क्या तैयारी है
x
Indo-China Tension: भूटान में चाइना 166 बिल्डिंग्स रोड बनाए दे रहा है, ये डोकलाम से सिर्फ 30 किलोमीटर दूर है वही जगह है जहां 2017 में विवाद हुआ था

Indo-China Tension: भारत का दुश्मन देश चाइना अब देश को भूटान के रस्ते से घेरने लगा है, कुछ नई सेटेलाइट्स इमेजेस सामने आई हैं, जिससे यह खेलसा हुआ है कि चीन डोकलाम एरिया से महज 30 किलोमीटर दूर भूटान में सड़क और गांव बसाए दे रहा है, डोकलाम वही इलाका है जहां 2017 में भारत और चीनी सैनकों के बीच झड़प हुई थी. चीन भारत को घेरने के लिए इतना कुछ तिकड़म लगा रहा है।

डोकलाम में विवाद की वजह यही थी के चीन उस सीमा में सड़क बना रहा था और भारत से उसे ऐसा करने से रोका था, चीन फिर से वही काम करने लगा है और पूरा भी करने वाला है लेकिन भारत सरकार ने अभी तक कोई एक्शन नहीं लिया है। यह भविष्य में देश के लिए बहुत बड़ा खतरा बन सकता है। चीन, भूटान के एक गांव में 166 इमारतों का निर्माण कर रहा है और सड़क बना रहा है।

भूटान में एक गांव बस चुका है

NDTV की रोपोर्ट के अनुसार भारत को घेरने के लिए चीन नई रणनीति बना रहा है, वो उन इलाकों में सड़क और गांव बना रहा है जहां भारत की मौजूदगी नहीं है. जिस डोकलाम में भारत-चीन के बीच विवाद हुआ था वो कंस्ट्रक्शन साईट से सिर्फ 9 किलोमीटर की दूरी में मौजूद है। NDTV ने साल 2020 में अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि चीनी सेना ने भूटान की जमीन में एक गांव बसा चुकि है।

ये कोई मजाक की बात नहीं है

जियोनेट रिसर्चर डेमियन सायमन ने पिछले साल नवंबर में यह सेटेलाइट्स इमेजेस सामने आई थी. रिपोर्ट्स के अनुसार यह तस्वीरें बिलकुल सच्ची हैं। चीन भारत की सरहद के करीब भूटान में गांव बना रहा है. इसके अलावा कंस्ट्रक्शन साईट के लिए जाने वाले मार्ग में पक्की सड़क भी बन गई है। चीन अपनी इमारतों का इस्तेमाल मिलिट्री के लिए करने वाला है या लोगों को बसाने के लिए यह कहना फ़िलहाल मुश्किल है। लेकिन ये बात पक्की है कि अगर भविष्य में भारत से चीन के बीच विवाद होता है तो भूटान में हो रहा कंस्ट्रक्शन चीन को मजबूती देगा।

CDS रावत ने भी चीन को लेकर चेतावनी दी थी

भूटान एक कमजोर देश है इसी लिए वो चीन की हरकतों को लेकर कोई एक्शन नहीं ले पा रहा है, CDS जनरल विपिन रावत ने भी भारत-चीन विवाद को लेकर चेतावनी जारी की थी। भूटान भारत-चीन विवाद से अच्छी तरह से वाकिफ है और वह हमेशा से भारत के साथ रहा है। लेकिन भारत ने भूटान की फॉरेन पॉलिसी में कभी हस्तक्षेप नहीं किया है

भारत सतर्क है कोई दिक्कत वाली बात नहीं है

बुधवार को भारत और चीन के बीच सरहद को लेकर चल रहे विवाद से जुड़े सवाल में आर्मी चीफ जनरल नरवणे ने कहा है कि - अरुणचल में चीन को किसी तरह के निर्माण की मंजूरी नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा था कि हम अपनी सरहदों की सुरक्षा लिए हमेशा अलर्ट रहते हैं.

Next Story
Share it