covid_ambulance (1) (1).jpg

दिल्ली : मर गई मानवता, 2 किलोमीटर के वसूल रहे 8500 रूपये एम्बुलेंस चालक, मामला दर्ज

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
02 May 2021

नई दिल्ली (New Delhi) एक ओर कोरोना लोगों की कमर तोडे़ हुए है। वहीं मुनाफाखोरी तथा कालाबाजारी करने वाले लूट करने में लगे हुए हैं। इन लोगों में मानवता मर सी गई है। दिल्ली में एक एम्बुलेंस चालक ने मात्र दो किलोमीटर के दायरे में रोगी सिफ्ट करने के 8500 रूपये वसूल लिए। जिसकी शिकायत पीडित ने थाने में दर्ज करवाई तो पहले पुलिस के होष उड़ गये। बाद में पुलिस नकली ग्राहक बनकर एम्बुलंेस चालक को रंगे हांथों पकड़ लिया। 

सरिता विहार थाने का मामला

जानकारी के अनुसार सरिता विहार थाना में आये इरशाद नामक व्यक्ति ने पुलिस को बताया कि अपोलो अस्पताल से होली फैमिली अस्पताल में भर्ती कोविड मरीज को शिफ्ट करना था। इसके लिए एम्बुलेंस चालक ने उससे 8500 रुपये ले लिए। कुछ कम करने के लिए कहने पर कहने लगा कि कोरोना का समय चल रहा है इस समय सब महंगा है। 

रंगे हाथ पकड़ने पुलिस ने बनाई योजना

मामाले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने आरोपी एम्बुलेंस चालक को फोन कर रोगी सिफ्ट करने की बात कहीं। उसे बताया गया कि मरीज को अपोलो से होली फैमिली ले जाना है। जिस पर चालक ने पहले तो 9500 रेट बताया लेकिन बाद में 8500 में तैयार हो गया। नकली आदमी के साथ पुलिस पहुंची और पैसा लेते समय आरोपी को रंगे हाथों पकड़ लिया।

कई लोगों से ऐंठे ज्यादा रूपये

जानकारी के अनुसार पुलिस की पकड़ में आया एम्बुलंेस चालक प्रमोद कुमार निवासी शिव मंदिर कालोनी गाजियाबाद बहुत ही शातिर है। वह इससे पहले भी कई लोगों से ज्यादा पैसे लेकर एम्बुलेंस से पहुंचा चुका है। इस महामारी के समय जब लोगों को पीड़ित मानवता की सेवा करनी चाहिए एक दूसरे की मदत करनी चाहिए एसे बुरे वक्त में भी लोग लूट कर रहे हैं।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER