2021/03/sana ka dal.jpg

Uttarakhand : उत्तराखंड में फिर आई आपदा, ग्लेशियर टूटने से 8 शव मिले, 6 गम्भीर

RewaRiyasat.Com
Viresh Singh Baghel
24 Apr 2021

उत्तराखंड ( Uttarakhand News) :  राज्य में फिर एक बार आपदा से हर कोई सहम गया है। जानकारी के तहत ग्लेशियर टूटने से 8 शव मिले जबकि 6 लोग गम्भीर हालत में पाये गये है। मौके पर बचाव राहत कार्य जारी है। वही सेना के जवानो को भी मदद के लिये उतारा गया है। 

जानकारी के तहत उत्तराखंड के चमोली जनपद के जोशीमठ में घटी इस घटना से सेना का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। ग्लेशियर टूटकर मलारी-सुमना सड़क पर गिर गया था। इस सड़क पर कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा था। सेना के मुताबिक, अब तक 8 शव बरामद किए जा चुके हैं और 384 लोगों को सुरक्षित बचाया जा चुका है। इनमें 6 की हालत गंभीर बताई जा रही है। 

सड़क निर्माण का काम कर रहे थें मजदूर

मलारी-सुमना सड़क निर्माण का काम चल रहा था। ग्लेशियर टूटने का कारण भारी बर्फबारी को माना जा रहा है। हादसे की वजह से जोशीमठ-मलारी हाईवे भी बर्फ से ढक गया है।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जानकारी दी है कि नीती घाटी के सुमना में ग्लेशियर टूटने की सूचना मिली है। इस संबंध में एलर्ट जारी कर दिया गया है। राज्य सरकार ने अन्य परियोजनाओं में रात के समय काम रोकने के आदेश दे दिए हैं, ताकि कोई अप्रिय घटना ना होने पाये।

ढ़ाई माह पूर्व आ चुका है जल प्रलय

उत्तराखंड प्रकृति आपदा थमने का नाम नही ले रही है। लगभग ढ़ाई माह पूर्व 7 फरवरी को चमोली जिले के तपोवन में ग्लेशियर टूटकर ऋषिगंगा नदी में गिरा था। हादसे के बाद 50 से ज्यादा लोगों की लाश मिली थी, जबकि 150 से ऊपर लोग ऐसे थे, जिनका हादसे के बाद कोई पता नहीं चल पाया। 

SIGN UP FOR A NEWSLETTER