राष्ट्रीय

यूपी को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने में बहुत समय नहीं लगेगा : पीएम मोदी

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:57 AM GMT
यूपी को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने में बहुत समय नहीं लगेगा : पीएम मोदी
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

लखनऊ : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी में 60 हजार करोड़ रुपये की लागत से शुरू होने वाली परियोजनाओं के शिलान्‍यास रविवार को किया. लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्‍ठान में हो रहे इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद हैं. यूपी के राज्‍यपाल रामनाईक, डिप्टी सीएम केशव मौर्य, दिनेश शर्मा, मंत्री सतीश महाना, सुरेश राणा भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे. पीएम मोदी ने कहा कि जो लोग मोदी की आलोचना करते हैं वो यह जान लें कि आलोचना करने के लिए मेरे खाते में चार साल हैं, दूसरों के खाते में 70 साल हैं. इस दौरान मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि 'हमारे एक साल में यूपी में 60 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया'.

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने में बहुत समय नहीं लगेगा. अकेले नोएडा और गाजियाबाद में निवेश से नंबर तो बढ़ता लेकिन जनता को फायदा नहीं मिलता. कुछ लोगों की एक फोटो उद्योगपतियों के साथ नहीं हुई लेकिन चाहते सब हैं. यहां अमर सिंह मौजूद हैं उनको तो सबका पता है.

नीयत साफ हो तो किसी के साथ खड़े होने से दाग नहीं लगते कारोबारियों के साथ खड़े होने पर प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी ने कहा कि अगर नीयत साफ हो तो किसी के साथ भी खड़े होने से दाग नहीं लगते हैं. हम वो लोग नहीं हैं जो उद्योगपतियों के साथ खड़े होने में डरते हों. जो गलत करेगा तो उसे देश छोड़कर भागना पड़ेगा या जेल जाना होगा. पहले लोग पर्दे के पीछे उद्योगपतियों से मिलना पसंद करते थे. वे लोग साथ खड़े होने से डरते थे. प्रधानमंत्री ने कहा कि भारी बारिश से कई राज्‍यों में परेशानी हो रही हैं. इस पर सरकार की नजर है. पूंजी निवेश में काफी रुकावटें आती हैं. यूपी में 60 हजार करोड़ रुपये का निवेश बहुत बड़ी उपलब्धि है. इस उपलब्धि को कम करके ना आंकिए.

अटल जी देखना चाहते हैं ऐसा भारत पीएम मोदी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ऐसा भारत देखना चाहते हैं जहां गांवों और शहरों के बीच कोई दूरी ना हो, केंद्र और राज्‍य सरकारों के बीच दूरी ना हो, मजदूर और आय में दूरी ना हो, प्रशासन और नागरिकों में दूरी ना हो. पीएम मोदी ने कहा कि मौजूदा समय में देश दुनिया में मोबाइल मैन्‍यूफैक्‍चरिंग का हब बन रहा है. उत्‍तर प्रदेश इसमें अग्रणी है. 50 से अधिक मोबाइल मैन्‍यूफैक्‍चरिंग कंपनियां यूपी में हैं. दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल मैन्‍यूफैक्‍चरिंग कंपनी भी यूपी (नोएडा) में है.

आता नहीं हूं लेकिन आप ही का हूं. पीएम मोदी ने कहा कि एलईडी बल्‍बों के वितरण के कारण पिछले तीन साल में बिजली के बिल मे 50 हजार करोड़ रुपये बचाए गए. उत्‍तर प्रदेश से सांसद होने के नाते भी यूपी के विकास की खबरें मुझे और खुशी देती हैं. और मेरा दायित्‍व भी बनता है. यूपी के लोगों का भी मुझपर हक बनता है. इसलिए मैं दो बार, पांच बार, 15 बार आऊं. मैं आप ही का हूं. आता नहीं हूं लेकिन आप ही का हूं.

मार्च तक हर घर में बिजली पहुंचाने का लक्ष्‍य पीएम मोदी ने कहा कि कारोबारी डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा दें. उन्‍होंने कहा कि अभी तो मेरे लिए विकास की शुरुआत है और तेज दौड़ना है. उन्‍होंने उद्योगपतियों से क्‍लीन और ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में आगे आने की अपील की. देश में मैन्‍यूफैक्‍चरिंग के क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए कई कदम उठाए गए हैं. अगले साल मार्च तक सभी घरों तक बिजली पहुंचाने का लक्ष्‍य सरकार लेकर चल रही है. उन्‍होंने कहा कि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्‍व में सरकार ने बेहतर काम किया. पीएम मोदी ने कहा कि एक समय था कि यूपी में लोग निवेश को चुनौती मानते थे. आज यही अवसर के रूप में उभर रहा है. सिर्फ गाजियाबाद और नोएडा के विकास से ही यूपी को विकास नहीं होगा. यूपी की जनता को वचन दिया था कि आपके प्‍यार को ब्‍याज समेत लौटाउंगा. आज यह परियोजनाएं उन्‍हीं का नतीजा हैं. इससे हर किसी को लाभ होगा.

सीएम योगी बसपा और सपा पर साधा निशाना कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि पीएम की प्रेरणा और मार्गदर्शन में हमने अपनी पहली इन्वेस्टर्स मीट की थी. 5 महीने में हम 60 हजार करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव को जमीन पर उतारने जा रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि बसपा के 5 साल में 57 हजार करोड़ रुपये का निवेश हुआ था. सपा के 5 साल में 50 हजार करोड़ का निवेश हुआ. हमारे एक साल में ही 60 हज़ार करोड़ का निवेश पूरा हो रहा है. बहुत जल्द 50 हजार करोड़ की और परियोजनाएं जमीन पर उतरेंगी.

कुंभ में आमंत्रित किया सीएम योगी ने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में बेहतर 5 राज्यों में यूपी है. इस साल के अंत में बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का हम शुभारंभ करने जा रहे हैं. कोई भी कंपनी प्रदेश से बाहर जाने को नहीं बल्कि विस्तार को तैयार हैं. मार्च 2017 से पहले कंपनियां प्रदेश के बाहर जाने को तत्पर थीं पर अब ऐसा नहीं हैं. जनवरी 2019 में प्रयागराज कुम्भ में मैं आप सबको आमंत्रित करता हूं.

यूपी इन्वेस्टर्स समिट में आए निवेश का हिस्‍सा ये परियोजनाएं फरवरी 2018 में आयोजित यूपी इन्वेस्टर्स समिट में आए 4 लाख 68 हजार करोड़ के निवेश का हिस्सा हैं. इस कार्यक्रम में करीब 75 बड़े उद्योगपति भी हिस्‍सा लेंगे. प्रधानमंत्री के साथ ही राज्‍यसभा सांसद डाक्‍टर सुभाष चंद्रा, अदानी ग्रुप के गौतम अदानी, बिड़ला ग्रुप के कुमार मंगलम बिड़ला समेत 6 बड़े उद्योगपति भी इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे.

फरवरी में हुई थी यूपी इन्वेस्टर्स समिट फरवरी में हुए यूपी इन्वेस्टर्स समिट में भी प्रधानमंत्री ने शिरकत की थी और यूपी में डिफेंस कॉरीडोर की स्‍थापना का एलान किया था. 60 हजार करोड़ रुपये की इन अहम परियोजनाओं मे रिलायंस जियो इन्फोकॉम की ओर से 10 हजार करोड़, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर का 10 हजार करोड़, टेग्ना के 5 हजार करोड़, बीएसएनएल के 5 हजार करोड़, पेटीएम के 3500 करोड़, एस्सेल ग्रुप के 3000 करोड़, अदानी ग्रुप के 2600 करोड़ और टाटा ग्रुप के 2300 करोड़ रुपए के बड़े निवेश प्रोजेक्ट शामिल हैं. ये 81 निवेश प्रोजेक्ट प्रदेश के 21 जिलों में स्थापित होंगे.

Next Story
Share it