राष्ट्रीय

यहाँ हो रही भारी हिंसा, बसों पर हमला व ट्रेनें रोकीं

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:57 AM GMT
यहाँ हो रही भारी हिंसा, बसों पर हमला व ट्रेनें रोकीं
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

मुंबई: सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण को लेकर आज आहूत मराठा संगठनों के बंद के दौरान मुंबई और ठाणे में सरकारी बसों पर हमले किए गए जबकि लोकल ट्रेनें रोक दी गईं। मराठा क्रांति मोर्चा ने आज मुंबई बंद बुलाया था लेकिन दोपहर बाद उन्होंने अपना फैसला वापिस ले लिया। हालांकि नवी मुंबई और ठाणे में बंद जारी रहेगा। इससे पहले प्रदर्शनकारियों ने आज सुबह जगह-जगह चक्का जाम किया जिससे मुंबई में गाड़ियों की लंबी कतारें लग गईं। आरक्षण के प्रदर्शन क दौरान मंगलवार को एक प्रदर्शनकारी जगन्नाथ सोनवणे ने जहर पी लिया था जिसकी आज मौत हो गई। इससे पहले रविवार को भी 27 वर्षीय काकासाहब शिंदे ने गोदावरी नदी में कूद कर जान दे दी थी जिसके बाद से हिंसक घटनाएं बढ़ी हैं।

परिवहन निगम के अधिकारी ने बताया कि मुंबई, ठाणे और नवी मुंबई में प्रदर्शनकारियों ने नौ सरकारी बसों पर हमला किया है। प्रदर्शनकारियों ने मुंबई के कंजुरमार्ग और भांडुप इलाकों सहित अन्य जगहों पर सरकारी बसों पर पथराव किये और उनकी खिड़कियां तोड़ दीं। परिवहन निगम के एक अधिकारी ने बताया कि बसों पर हो रहे पथराव को ध्यान में रखते हुए बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट (बीईएसटी) ने प्रभावित इलाकों में अपनी सेवा आंशिक रूप से निलंबित कर दी है और हालात सुधरने पर ही उसे पूर्ण रूप से बहाल करेगी।

मराठा आरक्षण Highlights

प्रदर्शनकारियों ने मानखुर्द में सड़क अवरूद्ध करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। चांदीवली इलाके में टायर जलाने और जोगेश्वरी तथा कांदीवली में सड़कें अवरूद्ध करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया। बांद्रा, माटुंगा और मुलुंड इलाकों में प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर मार्च निकाले और दुकानदारों से अपनी दुकानें बंद करने का अनुरोध किया। प्रदर्शनकारियों ने पड़ोसी ठाणे जिले के वाग्ले एस्टेट इलाके में भी सरकारी परिवहन पर पथराव किया और घोड़बंदर रोड इलाके में टायर जलाए। लेकिन पुलिस ने उन्हें वहां से हटा दिया।

तीन हाथ नाका जंक्शन सहित कई रास्ते अवरूद्ध कर दिए जिसके कारण मुंबई जाने वाली सड़कों पर भीषण जाम लग गया। नवी मुंबई के घनसोली इलाके में भी एक बस पर हमला हुआ है। घटना के बाद क्षेत्र में बस सेवा निलंबित कर दी गई है। पिछले शांतिपूर्ण प्रदर्शन के मुकाबले प्रदर्शनकारियों ने आज मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे की लोकल ट्रेनों को रोकने का प्रयास किया। कुछ प्रदर्शनकारियों ने जोगेश्वरी में सुबह नौ बजकर सोलह मिनट पर अप ट्रेन को रोकने का प्रयास किया, लेकिन उन्हें तुरंत पटरियों से हटा दिया गया। ट्रेन सेवा नौ बजकर चौबीस मिनट पर बहाल हो गई।

पश्चिम रेलवे की सभी ट्रेनें समय पर चल रही हैं। प्रदर्शनकारियों ने नवी मुंबई की ट्रांस हार्बर लाइन पर स्थित ठाणे और घनसोली स्टेशनों पर ट्रेनों पर पथराव किया जिसके कारण सेवा कुछ देर बाधित रही। मध्य रेलवे के जन संपर्कअधिकारी सुनील उदासी ने कहा, ठाणे और घनसोली पर सुबह करीब 10 बजे कुछ घटनाएं हुईं। लेकिन 10 बजकर 24 मिनट पर सेवा बहाल हो गई। नवी मुंबई के तुर्भे में मंडी बंद रही क्योंकि पालदार मराठा समुदाय के बंद का समर्थन कर रहे हैं।

गौरतलब है कि मुंबई क्षेत्र में करीब 70 लाख लोग रोज लोकल ट्रेनों से यात्रा करते हैं। बंद के कारण सड़कों पर टैक्सियों और ऑटो रिक्शा भी कम ही नजर आ रहे हैं। कुछ जगहों पर प्रदर्शनकारियों ने मराठा समुदाय का कथित रूप से अपमान करने के लिए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस और लोक निर्माण मंत्री चन्द्रकांत पाटिल के खिलाफ नारेबाजी की। सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्थानों में आरक्षण की मांग को लेकर हो रहे प्रदर्शनों का नेतृत्व करने वाले मराठा क्रांति मोर्चा ने आज मुंबई और आसपास के कुछ जिलों में बंद का आह्वान किया है। अन्य संगठन सकल मराठी समाज ने नवी मुंबई और पनवेल इलाकों में बंद का आह्वान किया है।

Next Story
Share it