rewa-patwari

रीवा की महिला पटवारी का आरोप, जज ने शादी का झांसा देकर 2 साल तक किया शारीरिक शोषण, फिर माँगा 50 लाख दहेज़

मध्यप्रदेश रीवा

पन्ना/अजयगढ़. अजयगढ़ में पदस्थ एक जज पर महिला पटवारी ने दुष्कर्म और दहेज मांगने के आरोप लगाए हैं। अजयगढ़ पुलिस ने महिला की शिकायत के बाद गुरुवार को जज पर एफआईआर दर्ज कर ली है। रीवा जिले की महिला पटवारी ने जज पर शादी का झांसा देकर दो माह तक यौन शोषण करने और 50 लाख दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दूसरी युवती से शादी तय कर ली। एफआईआर के बाद अजयगढ़ पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। जबरन बनाए शारीरिक संबंध…

पीड़िता का आरोप है कि 2015 में छतरपुर निवासी जज से विवाह के संबंध में परिजन ने बात की थी। 2016 से ही व्हॉट्सऐप और फोन पर दोनों की बातचीत होने लगी। महिला का आरोप है कि 2018 में वेलेंटाइन वीक के दौरान आरोपी जज ने उसे अजयगढ़ के अपने शासकीय आवास पर बुलाया और अंगूठी पहनाकर कहा कि अब हमारी सगाई हो गई और वह उससे शादी भी करेगा। इसके बाद घर पर ही उसने जबरन शारीरिक संबंध बना लिए। फिर यह सिलसिला आगे भी जारी रहा।



मंदिर में जबरन शादी की फिर मांगे 50 लाख
पीड़िता ने बताया कि आरोपी जज ने उसे अंगूठी पहनाने के साथ-साथ रीवा के एक मंदिर में मांग में सिंदूर डालकर पत्नी स्वीकार किया था। इसके बाद कहा कि वह 50 लाख रुपये समेत 30 तोला सोना व एक कार की व्यवस्था के लिए बात करें।

एक करोड़ दहेज पर दूसरी शादी तय कर ली
पीड़िता ने बताया कि कुछ दिन बाद जज के भाई ने बताया कि उनका विवाह कहीं और तय कर दिया गया है। पीड़िता ने जब जज से बात की तो उसने बताया कि जहां शादी तय हुई है, वहां उसे 1 करोड़ रुपए दहेज में मिल रहे हैं। आरोपी जज की शादी 18 जून को महोबा, उप्र निवासी युवती से होने वाली थी। महिला पटवारी ने फोटोग्राफ और कॉल रिकार्ड पुलिस के सामने पेश किए, जिसे पुलिस ने सबूत की तरह लिया है।

पुलिस केस दर्ज किया

पन्ना की अजयगढ़ पुलिस ने जज के खिलाफ बलात्कार और दहेज प्रताड़ना का मामला दर्ज किया है और शीघ्र ही विवेचना के बाद गिरफ्तारी की बात कर रहे हैं। एसपी रियाज इकबाल ने ने कहा कि महिला के पास पर्याप्त सबूत है और कानून अपना काम करेगा।