vindhyacoronabulletin/train  (1).jpg

MP : सराफा व्यापारी से 60 लाख की लूट मामले में तीन पुलिस आरक्षक सेवा से बर्खास्त

RewaRiyasat.Com
News Desk
08 Jul 2021

ग्वालियर। जबलपुर-निजामुद्दीन ट्रेन में झांसी के व्यापारियों के साथ 60 लाख की ठगी करने वाले तीन पुलिस आरक्षकों को पुलिस अधीक्षक ने सेवा से बर्खास्त कर दिया है। गौरतलब है कि 17 जून को दो सराफा व्यापारी जबलपुर-निजामुद्दीन ट्रेन में झाँसी से दिल्ली जाने के लिए बैठे थे। वे लोग झाँसी से कई सुनारों से पैसा लेकर दिल्ली जेवर खरीदने जा रह थे। उनके पास 60 लाख रुपये थे। डबरा स्टेशन निकलने के बाद चार पांच लोग उनके कोच में आये और खुद को राजस्थान क्राइम ब्रांच का बताते हुए उनके रुपयों से भरे बैग छीन लिये।

पीड़ित व्यापारियों ने आगरा और ग्वालियर दोनों जगह मामला दर्ज कराने की कोशिश की लेकिन बहुत प्रयासों के बाद ग्वालियर जीआरपी में 2 जुलाई को ठगी का प्रकरण दर्ज कर लिया गया। उधर ग्वालियर क्राइम ब्रांच को भी सूचना मिल रही थी कि ट्रेन में इस तरह की वारदात हो रही है और इसमें  निलंबित पुलिसकर्मी शामिल हैं। पुलिस ने क्राइम ब्रांच और जीआरपी की एक संयुक्त टीम बनाई और रात में ही चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं पुलिस को इनके कब्जे से 27 लाख रुपये बरामद हुए।

पूछताछ में पता चला कि आरोपी कोई और नहीं उनके ही विभाग के लोग हैं यानी पुलिस कर्मी हैं। गिरफ्तार चार आरोपियों में से एक आपीएफ ग्वालियर का आरक्षक है, दो जिला पुलिस बल में पदस्थ आरक्षक हैं और 1 पांच साल पहले जिला पुलिस बल से निलंबित आरक्षक है जबकि इनका एक अन्य साथी जो इनके लिए इन्फॉर्मर का काम करता है और अभी फरार है। घटना सामने आने के बाद एसपी अमित सांघी ने आरोपी आरक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER