vindhyacoronabulletin/oxizen plant  (1).jpg

MP : मध्यप्रदेश में आक्सीजन प्लांट के लिए टाटा की हां

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
01 May 2021

भोपाल। मध्यप्रदेश को आक्सीजन उत्र्सजन के क्षेत्र में आत्म निर्भर बनाने के लिये टाटा ने मदद का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह एवं कंपनी के चंद्रशेखरन के बीच शुक्रवार  को हुई बातचीत के बाद निष्कर्ष निकला है। कंपनी की ओर से कहा गया है कि प्रदेश में आक्सीजन प्लांट लगाने में टाटा कंपनी सहयोग करेगी। इसके अलावा कंपनी आक्सीजन कंसंट्रेटर भी विभिन्न् जिलों के लिए उपलब्ध कराएगी।

रीवा में दो दिन में शुरू हुए आक्सीजन प्लांट की प्रदेश में चर्चा

आपको बता दें कि सरकार आक्सीजन की समस्या के स्थायी निराकरण के लिए प्रयास कर रही है। लेकिन इस बीच रीवा में दो दिन में शुरू किये गये आक्सीजन प्लांट की प्रदेश भर में चर्चा हो रही है। साथ ही पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल एवं प्रशासन के प्रयासों की सराहना की जा रही है। यह प्लांट दो दिन में शुरू किया गया और 29 अप्रैल से यहां प्रतिदिन 100 सिलिंडर भरे जा रहे हैं। इससे सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में मांग के अनुसार आक्सीजन की शत प्रतिशत आपूर्ति हो जाएगी। साथ ही संजय गांधी अस्पताल को आवश्यकता पड़ने पर आक्सीजन उपलब्ध कराई जा सकेगी। बता दें कि देश के प्रमुख औद्योगिक घरानों की मदद से इस काम में और तेजी आएगी।

टैंकर लेकर जबलपुर.सागर पहुंची आक्सीजन एक्सप्रेस

जबलपुर में आक्सीजन की कमी दूर करने के लिए दो दिन के भीतर दूसरी बार आक्सीजन के दो टैंकर लेकर शुक्रवार शाम छह बजे आक्सीजन एक्सप्रेस जबलपुर पहुंची। भेड़ाघाट में बनाए गए नए रैम्प पर इन टैंकरों को उतारा गया। आक्सीजन एक्सप्रेस की मदद से लिक्विड मेडिकल आक्सीजन एलएमओ से भरे 4 टैंकर झारखंड के बोकारो से लाए गए हैं। इनमें से दो टैंकर सागर जिले के मकरोनिया रेलवे स्टेशन पर उतारे गए और शेष दो को जबलपुर लाया गया।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER