मध्यप्रदेश

एमपी कैबिनेट बैठक: प्रदेश वासियो को क्या मिला? जानिए

MP cabinet meeting
x
मुख्यमत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh) की अध्यक्षता में कैबिनेट की एक आवश्यक बैठक मंगलवार 28 जून को आयोजित की गई।

MP Cabinet Meeting News: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में कैबिनेट की एक आवश्यक बैठक मंगलवार 28 जून को आयोजित की गई। यह बैठक कई मामलो में अहम रही। जनता की आवश्यकता तथा विधायकों की मांग तथा उनकी मजबूरी को देखते हुए स्वेच्छानुदान राशि बढ़ा दी गई है। मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान राशि को बढ़ाकर 200 करोड़ रूपये किया गया है तो वहीं विधयाकों की स्वेच्छानुदान राशि को बढ़ाकर 50 लाख रूपये कर दिया गया है। वहीं कैबिनेट की बैठक में तेंदूपत्ता संग्रहकों का मानदेय भी बढ़ाया गया है। 2 नये मेडिकल कालेज खोले जोयेंगे।

बढ़ गया स्वेच्छानुदान

जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान 200 करोड़ रूपये किया गया है। इसी तरह विधायको की स्वेच्छानुदान 15 लाख से बढ़ाकर 50 लाख रूपये प्रतिवर्ष किये जाने को मंजूरी दे दी गई है।

दो नए मेडिकल कॉलेज

उज्जैन में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए जनप्रतिनिधियों द्वारा काफी समय से मांग की जा रही थी। इस पर लंबी चर्चा के बाद उज्जैन में एमबीबीएस सीट के लिए मेडिकल कॉलेज खोलने की स्वीकृति दी गई है। साथ ही बुधनी में 100 एमबीबीएस सीट के लिए मेडिकल कॉलेज खोला जाएगा। जिसके लिए राज्य सरकार ने स्वीकृति दे दी है

बढ़ा मानदेय

तेंदूपत्ता संग्राहक का मानदेय बढ़ा दिया गया है पूर्व में तेंदूपत्ता संग्राहक को 2500 रुपए प्रति मानक बोरा मानदेय दिया जाता था। जिसे अब बढ़ाकर 3000 रुपए प्रति मानक बोरा कर दिया गया है। गरीबों के मेहनत और परिश्रम को देखते हुए तेंदूपत्ता संग्राहक उनको सरकार मानदेय बढ़ाकर लाभान्वित कर रही है।

खुलेगी नेशनल फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी

भोपाल में नेशनल फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी खोले जाने की स्वीकृति दे दी है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया है कि नेशनल फॉरेंसिक साइंस यूनिवर्सिटी भोपाल के गांधीनगर में खोले जाने के लिए जमीन आवंटन प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। इसके लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निशुल्क जमीन देकर योजना को मूर्ति रूप देने में अविस्मरणीय कार्य किया है।

23 नए आईटीआई कॉलेज खुलेंगे

विकासखंड स्तर पर आईटीआई खोलने का सरकार ने निर्णय लिया है। प्रदेश के विभिन्न जगहों पर 23 नए आईटीआई ले जाएंगे। इसके लिए वित्तीय प्रावधानों को कैबिनेट द्वारा सहमति प्रदान कर दी गई है। सरकार विकासखंड स्तर पर आईटीआई खोलकर प्रदेश के नवयुवकों को रोजगार परक प्रशिक्षण देने की योजना पर काम करते हुए नए 23 आईटीआई खोलने को स्वीकृति दी है।

Next Story