मध्यप्रदेश

MP में यहाँ सड़क का अभाव, मरीजों को कंधे पर लेकर 3 किलोमीटर का सफर करते हैं ग्रामीण

Sandeep Tiwari
15 Sep 2021 8:21 AM GMT
MP में यहाँ सड़क का अभाव, मरीजों को कंधे पर लेकर 3 किलोमीटर का सफर करते हैं ग्रामीण
x
छिंदवाड़ा (Chhindwara) जिले के तामिया ब्लॉक (Tamiya Block) के एक गांव में सड़क न होने से ग्रामीण परेशान हैं।

छिंदवाड़ा (Chhindwara) जिले के तामिया ब्लॉक (Tamiya Block) का एक गांव ऐसा भी है जो 21वीं सदी के विकास की पोल खोल रहा है। इस काले सच को जानने के बाद सुविधा संपन्न गांव के लोगों की आंखें फटी की फटी रह जाती हैं। लोगों को सहसा विश्वास ही नहीं हो रहा की आज के जमाने में भी सड़क के अभाव में किसी बीमार को ले जाने के लिए डोली और कंधे की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन यह बात सत्य है। छिंदवाड़ा जिले के तामिया ब्लॉक के ग्राम घाना कोडिया (Ghana Kodiya) गांव में आज भी सड़क नहीं है।

दुर्गम पहाड़ियों के बीच बसा है गांव

ग्राम घाना कोडिया पातालकोट क्षेत्र (Patalkot) में दुर्गम पहाड़ियों के नीचे बसा हुआ है। यहां आने जाने के लिए लोगों को पहाड़ी रास्ते का उपयोग करना पड़ता है। किसी के द्वारा ध्यान न दिए जाने से गांव में सड़क का अभाव है। वही पहाड़ियों के नीचे गांव होने से सड़क बनाने शासन ध्यान नहीं दे रहा है।

कंधे पर जाते हैं बीमार

मुख्य सड़क तक पहुंचने के लिए हर बीमार को कंधे पर ले जाना पड़ता है। इसके लिए ग्रामीण कपड़े की डोली बनाते हैं और उसने बीमार को बैठाकर या लिटा कर मुख्य सड़क तक ले जाते हैं। एक ओर दुर्गम पहाड़ी वह भी बिना रास्ते के कंधे पर बीमार का बोझ लेकर चलना खतरों से भरा रहता है। लेकिन जीवन की आस के लिए हर ग्रामीण रोगी को कंधे पर लेजाने के मजबूर है।

ग्रामीणों ने कहा जनप्रतिनिधि नहीं दे रहे ध्यान

पातालकोट क्षेत्र में गांव तक पहुंच मार्ग बनवाने किसी भी जनप्रतिनिधि ने ध्यान नहीं दिया। परिणाम स्वरूप गांव के लोग नेता चुनने वोट दे देते हैं । बदले में उनसे वायदे के अलावा कुछ नहीं मिला। गांव के लिए सड़क का निर्माण नितांत आवश्यक है। लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

Next Story
Share it