vindhyacoronabulletin/barish .jpg

20 जून से मध्यप्रदेश में शुरू होगी झमाझम बारिश

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
03 Jun 2021

भोपाल। मौसम विभाग ने पहले 31 मई को मानसून के केरल पहुंचने की संभावना जताई थी, हालांकि बाद में मौसम विभाग ने कहा कि मानसून 3 जून को केरल पहुंचेगा। मौसम विभाग ने कहा है कि दक्षिण.पश्चिम मानसून के 3 जून को केरल पहुंचने की स्थितियां राज्य में बननी शुरू हो गई है। प्री मानसून के चलते यहां तेज बारिश हो रही है। बताया गया है कि मानसून चंद ही घंटों बाद केरल में दस्तक  दे सकता है। दो दिन की देरी के साथ इस बार मानूसून अब केरल में झमाझम बारिश शुरू कर सकता है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक ये अंडमान निकोबार द्वीप समूह के आसपास पहुंच चुका है। वहीं केरल में 3 दिनों से प्री.मानसूनी बारिश हो रही है और अब 3 जून को केरल पहुंच सकता है। तो वहीं मध्यप्रदेश में 20 जून से झमाझम बारिश होने की संभावना जताई गई है।

आपको बता दें कि 3 जून को मानसून केरल पहुंचेगा। तो वहीं 11 जून को महाराष्ट, तेलंगाना, 12 जून को पश्चिम बंगाल, 13 जून को ओडिशा, 14 जून को झारखंड, 16 जून को बिहार एवं छततीसगढ़, 20 जून को उत्तराखंड एवं मध्यप्रदेश, 23 जून को उत्तरप्रदेश, 26 जून को गुजरात, 27 जून को हरियाणा व दिल्ली तथा 29 जून को राजस्थान में मानसून पहुंचने की संभावना के साथ ही झमाझम बारिश शुरू हो सकती है।

औसत से ज्यादा बारिश की संभावना

मौसम की जानकारी देने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने कहा है कि पूरे भारत में मानसून के 4 महीनों के दौरान औसत 880ण्6 मिलीमीटर बारिश होती हैए जिसे लॉन्ग पीरियड एवरेज ;स्च्।द्ध कहते हैं। यानी 880ण्6 मिलीमीटर बारिश को 100 फीसद बारिश माना जाता है। ऐसे में इस साल अच्छी 907 मिलीमीटर बारिश होने की उम्मीद है। पूरे देश में मानसून सामान्य और उससे बेहतर होने की पूरी संभावना है। यदि यह सही होता है तो भारत में लगातार तीसरे साल ये अच्छा मानसून होगा।

Comments

Be the first to comment

Add Comment
Full Name
Email
Textarea
SIGN UP FOR A NEWSLETTER