मध्यप्रदेश

अजय सिंह राहुल की नाराजगी के चलते एमपी कांग्रेस ने चौधरी राकेश सिंह को रीवा से हटाया, बुंदेलखंड के सीनियर नेता को बनाया प्रभारी

Aaryan Dwivedi
23 July 2021 12:00 PM GMT
अजय सिंह राहुल की नाराजगी के चलते एमपी कांग्रेस ने चौधरी राकेश सिंह को रीवा से हटाया, बुंदेलखंड के सीनियर नेता को बनाया प्रभारी
x
भोपाल. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने विस चुनाव 2023 को लेकर मध्यप्रदेश के सभी जिलों के लिए प्रभारी नियुक्त किया था. रीवा का प्रभार चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी (Chaudhary Rakesh Singh Chaturvedi) को सौंपा गया था. जिसके चलते अजय सिंह राहुल (Ajay Singh Rahul) नाराज हो गए.

भोपाल. पीसीसी चीफ कमलनाथ ने विस चुनाव 2023 को लेकर मध्यप्रदेश के सभी जिलों के लिए प्रभारी नियुक्त किया था. रीवा का प्रभार चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी (Chaudhary Rakesh Singh Chaturvedi) को सौंपा गया था. जिसके चलते अजय सिंह राहुल (Ajay Singh Rahul) नाराज हो गए.

उन्होंने पीसीसी चीफ कमलनाथ (MP PCC Chief Kamal Nath) की कार्यप्रणाली का विरोध किया. अब उनकी नाराजगी काम आ गई है. चौधरी राकेश सिंह को रीवा से हटाकर मुरैना का प्रभार दे दिया गया है. वहीं बुंदेलखंड के सीनियर लीडर राजा पटैरिया को रीवा का प्रभारी बनाया गया है.

बता दें करीब डेढ़ माह पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा राज्य के सभी जिलों के लिए प्रभारियों की नयुक्ति की गई थी, जिसके बाद से ही जगह जगह विरोध शुरू हो गया था. सबसे ज्यादा विरोध रीवा जिले से सामने आ रहा था. रीवा का प्रभारी चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को बनाया गया था. चौधरी राकेश सिंह चुनाव के पहले कांग्रेस से भाजपा में चले गए थें, फिर कांग्रेस की विस में जीत के बाद वो वापस पार्टी में आ गए थें. इस वजह से विंध्य के कद्दावर कांग्रेस नेता अजय सिंह राहुल रीवा के प्रभार को लेकर नाराज हो गए.

कमलनाथ के इस फैंसले पर अजय सिंह राहुल ने कड़ी नाराजगी जाहिर की. कमलनाथ और अजय सिंह राहुल के बीच शब्दों के तीर चलने लगे. दोनों के बीच ईगो को लेकर लड़ाई शुरू हो गई. साथ ही अजय सिंह ने प्रदेश में कांग्रेस सरकार गिरने पर कमलनाथ के बयान पर आपत्ति जताते हुए कहा था कि वो विंध्य का अपमान कर रहे हैं. अजय सिंह राहुल ने कहा था कि सरकार गिरने का कारण विंध्य नहीं अक्षमता है.

अजय सिंह की नाराजगी काम आई

अजय सिंह राहुल की नाराजगी को चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को रीवा में मिले प्रभार से जोड़कर देखा जा रहा था. हांलाकि पीसीसी ने साफ़ कर दिया था कि किसी भी प्रभारी को किसी की नाराजगी या विरोध के चलते बदला नहीं जाएगा और न ही हटाया जाएगा. लेकिन राजनितिक विशेषज्ञ यही बताते हैं कि रीवा का प्रभारी बदलना अजय सिंह राहुल की नाराजगी का ही नतीजा है. उन्ही के दबाव और नाराजगी के चलते चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को रीवा से हटाकर मुरैना का प्रभार दिया गया है.

तीन नये प्रभारी

कमलनाथ ने चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी को रीवा से हटाकर मुरैना जिले का प्रभारी बनाया है. वही रीवा जिले की जिम्मेदारी बुंदेलखंड के सीनियर नेता राजा पटैरिया को दी गई है. कांग्रेस पार्टी ने आज कई जिलों के प्रभारियों को बदल दिया. पीपीसी ने पूर्व मंत्री तरुण भनोट को कटनी, हेमंत कटारे को शिवपुरी और राजेंद्र मिश्रा को टीकमगढ़ का प्रभारी बनाया है.

Next Story
Share it