Rewa_Riyasat/rewariyasat-news.jpg

कोरोना ने होली को बेरंग कर दिया, व्यापारियों को भारी नुकसान : MP NEWS

RewaRiyasat.Com
Saroj Kumar Tiwari
29 Mar 2021

सतना। होली के उत्सव का इंतजार सभी को था। कोरोना की वजह से सालों से परेशान लोग होली पर जमकर खरीददारी करने का मन बना चुके थे। साथ ही उल्लास के साथ होली मनाने की तैयारी चल रही थी लेकिन कोरोना ने होली को बेरंग कर दिया। इससे जहां लोगों का उत्साह फीका पड़ गया तो वहीं व्यापारियों को खासा नुकसान उठाना पड़ा है। देश के व्यापारियों की शीर्ष संस्था कंफेडरेशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स कैट मप्र के प्रदेश सचिव अशोक दौलतानी ने बताया कि भारतीय व्यापारियों ने होली में बिकने वाले सामानों की खरीदारी शुरु की थी। बाजार में सामानों की आपूर्ति की तैयारियां जोरों पर थी। लेकिन कोरोना के कारण शासन द्वारा जारी की गई गाइड लाइन से व्यापारियों को खासा नुकसान उठाना पड़ा है। बताया गया है कि लगभग 25 हजार करोड़ का नुकसान व्यापारियों को हुआ है।

बताया गया है कि होली सामान का व्यापार करने वाले व्यापारियों द्वारा बड़ा स्टॉक कर लिया है। जिसकी बिक्री फिलहाल कोविड के बढ़ते प्रकोप के कारण बेहद असंभव है। कैट के प्रदेश सचिव अशोक दौलतानी ने बताया कि कोविड .19 मामलों में तेजी से हुई वृद्धि के बीच इस साल होली का उत्सव मौन है। बड़े शहरों में जहां प्रशासन की सख्ती है तो छोटे शहर में भी कोरोना का भय लोगों को है।

व्यापारियों में मायूसी

प्रदेश सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन एवं केंद्र सरकार की सलाह के बाद देश भर में कोविड गाइट लाइन जारी होने से खुदरा व्यापार में सीधा असर पड़ा है। अशोक दौलतानी ने बताया कि कैट के एक सर्वे के अनुसार देश भर में करीब 25 हजार करोड़ का व्यापार होता है। अकेले मप्र में 500 करोड़ का व्यापार होता है। लेकिन इस साल ये व्यापार कोरोना के कारण प्रभावित होता गया है जिससे खुदरा व्यापारियों के चेहरों पर मायूसी साफ देखने को मिल रही है। कैट का कहना है कि मप्र में होली के समय होली मिलन समारोह रंग पंचमी फाग गान बुढवा मंगल आदि समारोह में इकट्ठा होकर जश्न मनाने की प्रथा चली आ रही है। ऐसे आयोजन से खुदरा व्यापारियों को आर्थिक मुनाफा होता है।

SIGN UP FOR A NEWSLETTER