मौसम से जगी उम्मीद, खरीफ में अब की होगी बंपर बोवनी

RewaRiyasat.Com
Sandeep Tiwari
16 Feb 2021
रीवा। किसानों को ही नहीं कृषि विभाग के अधिकारियों को भी मौसम से अब की बार काफी उम्मीद है। यही वजह है कि उनकी ओर से इस बार खरीफ में 274.5 हजार हेक्टेयर में बोवनी का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जो पिछले वर्ष हुई बोवनी की तुलना में 20 फीसदी अधिक है। सोयाबीन का रकबा होगा कम कृषि विभाग की ओर से खरीफ की बोवनी के लिए निर्धारित लक्ष्य के मुताबिक अब की बार धान के रकबे में जबरदस्त बढ़ोत्तरी की जा रही है। तय लक्ष्य के मुताबिक अधिकारियों ने अब की बार 130 हजार हेक्टेयर में धान की बोवनी का लक्ष्य निर्धारित किया है। जबकि सोयाबीन की बोवनी कम की गई है। तीन हजार टन उत्पादन का लक्ष्य विगत वर्षों की तुलना में इस बार सोयाबीन की आधी बोवनी होगी। अधिकारियों ने केवल 30 हजार हेक्टेयर में बोवनी का लक्ष्य निर्धारित किया है। धान के उत्पादन का लक्ष्य जहां 507 हजार टन है। वहीं सोयाबीन का महज तीन हजार टन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जल्द शुरू होगी झमाझम बारिश इधर मौसम वैज्ञानिक भी जल्द झमाझम बारिश की संभावना जता रहे हैं। वैज्ञानिकों के मुताबिक जल्द ही यहां रीवा में भी मानसून पहुंच जाएगा। अब की बार बारिश की अच्छी संभावना जताई जा रही है। यही वजह है कि कृषि विभाग ने बोवनी का रकबा बढ़ाने की योजना बनाई है। पिछले बार पूरा नहीं हुआ था लक्ष्य वैसे तो कृषि विभाग के कागजी दावे के मुताबिक पिछले बार बोवनी के निर्धारित लक्ष्य को पूरा कर लिया गया था। लेकिन हकीकत यह है कि पिछले खरीफ में केवल 220 हजार हेक्टेयर में बोवनी हो पाई थी। जबकि निर्धारित लक्ष्य करीब 230 हजार हेक्टेयर रहा है। लेकिन कृषि विभाग ने अब की बार बोवनी का रकबा बढ़ाने की योजना बनाई है। बोवनी व उत्पादन का लक्ष्य फसल बोवनी धान 130 मक्का 10 ज्वार 09 बाजरा 01 कोदो-कुटकी 1.50 अरहर 48 मूंग 12.50 उड़द 22.50 तिल 10 सोयाबीन 30 (बोवनी का रकबा हजार हेक्टेयर व उत्पादन हजार टन में है।)
SIGN UP FOR A NEWSLETTER