कमलनाथ के आंगनबाड़ी कर्मचारियों, सहायिकाओं एवं आशा कार्यकर्ताओं को स्थायी कर्मचारी घोषित किए जाने वाले वादे पर नरोत्तम मिश्रा ने मांगा हिसाब, कहा-पुराने वादों...

कमलनाथ के आंगनबाड़ी कर्मचारियों, सहायिकाओं एवं आशा कार्यकर्ताओं को स्थायी कर्मचारी घोषित किए जाने वाले वादे पर नरोत्तम मिश्रा ने मांगा हिसाब, कहा-पुराने वादों…

भोपाल मध्यप्रदेश

कमलनाथ के आंगनबाड़ी कर्मचारियों, सहायिकाओं एवं आशा कार्यकर्ताओं को स्थायी कर्मचारी घोषित किए जाने वाले वादे पर नरोत्तम मिश्रा ने मांगा हिसाब, कहा-पुराने वादों…

भोपाल। प्रदेश 28 विधानसभा में अगामी 3 नवम्बर को चुनाव होने हैं। चुनाव का प्रचार-प्रसार बीती शाम से पूरी तरह से थम चुका हैं। दोनों पार्टी के बड़े-बड़े नेता अब अपने-अपने अब घर लौट आए हैं। 28 विधानसभा के मतदाता कल यानी कि 3 नवम्बर को अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। ऐसे में बीते दिनों कमलनाथ ने एक महत्वपूर्ण घोषणा की थी। उन्होंने प्रदेश के संविदा कर्मचारियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिकाओं एवं आशा कार्यकर्ताओं के लिए एक ट्वीट करते हुए लिखा था कि अगर हमारी सरकार बनी तो हम इन्हें नियमित करेंगे और इनका मानदेय बढ़ाएंगे।

कमलनाथ के इस ट्वीट पर अब प्रदेश के गृहमंत्री एवं भाजपा नेता ने पलटवार किया हैं। उन्होंने कहा कि सेठ कमलनाथ जी! पहले आपने जो घोषणाएं की थी उसे तो अपना पूरा किया नहीं और अब नई-नई घोषणाएं कर रहे हैं। नरोत्तम ने एक ट्वीट करते हुए लिखा कि युवाओं को रोजगार, नहीं तो बेरोजगारी भत्ता देने का आपने वादा किया था, वो तो आपने किया नहीं। अब जनता आपके झांसे में नहीं आने वाली हैं।

10 को आएगा परिणाम

बता दें कि पिछले 32 दिनों से चल रहे चुनाव प्रचार-प्रसार अब थम चुके हैं। अब एक दिन बाद 28 विधानसभा की जनता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगी। जिसका परिणाम 10 नवम्बर को आएगा। प्रचार-प्रचार के दौरान कई मुद्दे छाए रहे। जिसमें किसानों का कर्जमाफी, 100 रूपए में 100 यूनिट बिजली, बेरोजगारी भत्ता एवं एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप।

रीवा: मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर मनोज इंदुलकर कोरोना पॉजिटिव, इलाज़ के दौरान बिगड़ गई थी तबियत..

इस दौरान दोनों ही पार्टी के बड़े-बड़े नेता एक नहीं बल्कि कई बार अपने-अपने प्रत्याशियों के क्षेत्र में पहुंचे और जमकर प्रचार-प्रसार किया हैं। कल सभी प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला यहां की जनता करेगी और शाम तक सभी प्रत्याशियों के भाग्य मत पेटियों में कैद हो जाएंगे।

10 नवम्बर को मतों की गणना होगी और रिजल्ट सामने आएगा। इसके बाद ही यह तय होगा सकेगा कि सरकार किसकी बनेगी। दोनों ही पार्टियां अपने आप को मजबूत मान रही हैं। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि किसको कितनी सीट मिलती और किसकी सरकार प्रदेश में बनेगी।

पुरानी मित्रता में दरार पड़ने पर होटल पर बैठे युवक पर दर्जन भर युवको ने किया हमला : REWA NEWS

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *