कमलनाथ ने खेला चुनावी दाव: कहा- सरकार बनते ही रोजगार सहायको, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ, सहिकाओं, संविदा कर्मचारियों को सरकार बनते ही करेंगे नियमित

कमलनाथ ने खेला चुनावी दाव: कहा- सरकार बनते ही रोजगार सहायको, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ, सहिकाओं, संविदा कर्मचारियों को सरकार बनते ही करेंगे नियमित

भोपाल मध्यप्रदेश

कमलनाथ ने खेला चुनावी दाव: कहा- सरकार बनते ही रोजगार सहायको, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ, सहिकाओं, संविदा कर्मचारियों को सरकार बनते ही करेंगे नियमित

भोपाल। प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने आज ट्वीटर कई घोषणाएं की हैं। कमलनाथ के इस घोषणा को पूरी तरह से चुनावी घोषणा माना जा रहा हैं। सीएम ने अपने ट्वीट के माध्यम से कई तरह की घोषणाएं की हैं। कमलनाथ ने कहा है कि सरकर बनतें ही हम संविदा कर्मचारियों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं सहायिकाओ एवं संविदा कर्मचारियों को सरकार बनते ही करेंगे नियमित।

साथ ही सीएम ने यह भी लिखा है कि वह इनके मादनेय में भी बढ़ोत्तरी करेंगे। जिसके लिए हम पूरी तरह से प्रतिबंध हैं। यह हमारा वचन हैं। कमलनाथ ने कहा कि पिछली बार हमने जितनी भी घोषणाएं की है उन सभी को पूरा करने का प्रयास किया है।
बता दें कि दो दिन बाद यानी कि 3 नवम्बर को प्रदेश के 28 विधानसभा में उप चुनाव होने हैं।

ऐसे में दोनों ही पार्टियां ज्यादा से ज्यादा सीट लाने किसी भी प्रकार की कोर-कसर नहीं छोड़ रही हैं। सीएम शिवराज सिंह चैहान जहां मोटर साइकिल में बैठकर चुनावी क्षेत्र में पहुंच रहे हैं। तो वहीं कमलनाथ भी प्रदेश की जनता को अपनी तरफ लुभाने किसी भी तरह के कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

वह घोषणाएं पर घोषणाएं कर रही हैं। चूंकि अब प्रचार-प्रसार का समय समाप्त हो चुका है। लिहाजा सीएम ट्वीटर पर घोषणाएं कर रहे हैं। सीएम के इस घोषणा को बेहद ही महत्वपूर्ण घोषणाएं मना जा रहा हैं। इस घोषणा को लेकर माना जा रहा है कि प्रदेश की जनता कांग्रेस के पक्ष में वोट करेगी एक बार फिर से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होगी। अब जनता किसे अपना अमूल्य मत देती है यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

मध्यप्रदेश के 5 हजार कर्मचारियों को दीवाली से पहले जोरदार झटका, पढ़िए : MP NEWS

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *