सीएम बनना सपना रह गया, पर हारते हुए भी सिंधिया को उनके गढ़ में कमजोर कर गए कमल नाथ

पूर्व मंत्री के बिगड़े बोल, कहा – कमलनाथ के पैरों की धूल के बराबर भी नहीं हैं शिवराज

मध्यप्रदेश

मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव होने जा रहा है। इस चुनाव में विजय फतह करने के लिए नेता कुछ भी बोले जा रहे हैं। ऐसा लग रहा है कि उनके मुंह से मिर्ची निकल रही है। अभी कुछ विवादित बयानों का मामला ठंडा नहीं हो पाया कि पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने भी विवादित बयान दे दिया है।

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने अपने बयान में कहा कि “कमलनाथ के व्यक्तित्व के आगे शिवराज सिंह चौहान पैरों की धूल के बराबर नहीं हैं। उनकी बात रतन टाटा और मुकेश अंबानी जैसे बड़े लोगों से होती रहती है।”

अपने बयान से जीतू पटवारी ने फिर विवाद खड़ा कर दिया है। इससे पूर्व कमलनाथ, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, इमरती देवी एवं बिसाहूलाल सिंह के बयानों से मध्यप्रदेश में होने जा रहे उपचुनाव को लेकर गहमा-गहमी बनी हुई है। इधर शिवराज सरकार की मंत्री एवं विधानसभा प्रत्याशी इमरती देवी ने तो कह दिया कि भाड़ जाय पार्टी, फिर सफाई दी।

पूर्व मंत्री के बिगड़े बोल, कहा - कमलनाथ के पैरों की धूल के बराबर भी नहीं हैं शिवराज

अनाप-शनाप बयान का प्रभाव सामाजिक स्तर पर

मीडिया के सामने अनाप-शनाप बयान देने वाले नेताओं के कारण सामाजिक स्तर पर भी इसका प्रभाव पड़ रहा है। मान-सम्मान में गिरावट आती जा रही है। चुनावी सभा से ही सही लेकिन इसका असर देश-प्रदेश के सामाजिक नागरिकों पर, युवाओं पर भी पड़ रहा है। यदि ऐसे ही राजनीति में कुछ भी बोलते रहे तो आने वाले दिनों में हमारा चरित्र बिगड़ता जायेगा जो ठीक नहीं है। हमें सुधरना होगा।

विंध्य की राजनैतिक उपेक्षा के लिए कौन जिम्मेदार ? पढ़िए पूरी खबर

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *