सरहंगों ने आम रास्ते में दीवाल खड़ी कर बंद किया रास्ता, परेशान लोग प्रशासन के काट रहे चक्कर, नहीं मिल रहा न्याय

REWA NEWS : सरहंगों ने आम रास्ते में दीवाल खड़ी कर बंद किया रास्ता, परेशान लोग प्रशासन के काट रहे चक्कर, नहीं मिल रहा न्याय

मध्यप्रदेश रीवा

REWA NEWS : सरहंगों ने आम रास्ते में दीवाल खड़ी कर बंद किया रास्ता, परेशान लोग प्रशासन के काट रहे चक्कर, नहीं मिल रहा न्याय

रीवा। शहर के चोरहटा थाना अंतर्गत वीरखाम चौरा गांव में सरहंगों द्वारा आम रास्ते में दीवाल खड़ी कर दी गई है। जिससे गांव के कई लोगों का रास्ता बंद हो गया। आम रास्ता बंद हो जाने से गांव के कई लोग परेशान है। इस रास्ते को खुलवाने लोगों ने प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है, कई आवेदन दिए। लेकिन 4 से 5 दिन बीत गए हैं। स्थिति जस की तस बनी हुई हैं। प्रशासन द्वारा सिर्फ आश्वासन दिया जा रहा है। इस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

परेशान लोगों का कहना है कि अगर जल्द से जल्द यह रास्ता नहीं खुलवाया गया तो वह खेती-किसानी का कार्य नहीं कर पाएंगे। क्योंकि सड़क तक जाने का एक मात्र यही रास्ता है। इसके अलावा कोई अन्य रास्ता नहीं है। इस रास्ते के बंद हो जाने से खेती-किसानी के साथ ही वह डेली आवश्यकताओं की खाद्य सामग्री नहीं ला पा रहे हैं। वह घरों में कैद हो गए हैं। हालात यही रहे तो वह भूखों मारने की कगार पर पहुंच सकते है।

पहले भी बंद कर चुके है रास्ता

वीरखाम चौरा ग्राम निवासी कृष्ण मित्र चतुर्वेदी का कहना है कि सरहंगई के दम पर यह रास्ता पहले भी कई बार बंद किया जा चुका है। श्री चतुर्वेदी बताते है कि 4 माह पहले दबंगों द्वारा रात में जेसीबी की मदद से इस रास्ते पर गड्ढा खोद दिया गया था। प्रशासन की पहल पर इसे खुलाया गया था। तो वहीं दबंगों द्वारा एक बार फिर से रास्ते में दीवाल खड़ी करके रास्ता रोक दिया गया है। जिसकी शिकायत प्रशासन से की गई, लेकिन अभी तक इसमें कुछ कार्रवाई नहीं हो सकी है।

रीवा की बेटी ने कैसे परीक्षा में पा लिया वो मुकाम जिसके लिए वह करती रही परिश्रम..

क्या है मामला

मामले की जानकारी देते हुए गांव के ही कृष्ण मित्र चतुर्वेदी ने बताया कि यह रास्ता वर्षो से आम रस्ता के रूप में उपयोग किया जा रहा है। लेकिन पिछले एक साल से सरहंग इसे अपने पट्टे की जमीन बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब इस मामले का रिकार्ड देखा गया तो पट्टा उनकेे नाम है, लेकिन इसमें आम रास्ता यानी कि ढर्रा दर्ज है। श्री चतुर्वेदी का कहना है कि जब उनके पट्टे की जमीन थी तो उन्हें इस मामले में पहले ही आपत्ति करनी थी। लेकिन उन्होंने पहले इस पर कोई आपत्ति नहीं जताई है। जब किसी चीज को लेकर विवाद होता है तो वह दबंगई के दम पर रास्ता बंद कर देते हैं।

इनका कहना

आम रास्ता बंद किए जाने मामले में जब बनकुईयां सर्किल नायब तसहीलदार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि मेरे पास इस मामले की जानकारी आई है। मैंने पटवारी से इस मामले में प्रतिवेदन मांगा है। फिलहाल जो काम चल रहा था उसे रोक दिया गया है। जांच चल रही है। जांच के बाद ही स्पष्ट हो सकेगा कि इसमें आगे क्या कार्रवाई होगी।

KAMAL NATH को चुनाव अयोग ने थमाया नोटिस, “क्या आइटम है” बयान पर 48 घंटे के अंदर मांगा जवाब- MP News

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *