प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना: रीवा से खुशी सिंह, कृष्ण कुमार केवट एवं सतना से कीर्ति कुशवाहा से सीएम ने किया संवाद, लैपटाॅप खरीदी के लिए भेजे रूपए

प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना: रीवा से खुशी सिंह, कृष्ण कुमार केवट एवं सतना से कीर्ति कुशवाहा से सीएम ने किया संवाद, लैपटाॅप खरीदी के लिए भेजे रूपए

मध्यप्रदेश रीवा सतना

प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना: रीवा से खुशी सिंह, कृष्ण कुमार केवट एवं सतना से कीर्ति कुशवाहा से सीएम ने किया संवाद, लैपटाॅप खरीदी के लिए भेजे रूपए

भोपाल। प्रदेश के मुखिया सीएम शिवराज सिंह चैहान ने आज प्रदेशभर के सभी प्रतिभाशाली विद्यार्थियों से सीधे संवाद किया। कार्यक्रम था प्रभातिशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना। इस कार्यक्रम के तहत सीएम ने सभी विद्यार्थियों का हाल-चाल जाना एवं प्रदेश में टाॅप करने वाले सभी विद्यार्थियों को बधाई दी। यह कार्यक्रम भोपाल के मिंटो हाल में आयोजित किया। इस दौरान सीएम शिवराज ने प्रदेश के सभी जिलों से टाॅप करने वाले सभी मेधावी छात्रों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद किया और उन्हें लैपटाॅप क्रय करने के लिए राशि उनके खाते में ट्रांसफर की।

रीवा में इन्हें मिला सम्मान

कक्षा 12वीं में कला संकाय से प्रदेश में टाॅप करने वाली रीवा की बेटी खुशी सिंह से सीएम ने सीधे संवाद किया। इस दौरान खुशी ने बताया कि वह डेली साइकिल से 5 किलोमीटर स्कूल जाती थी। सीएम ने खुशी सिंह को प्रदेश में टाॅप करने पर उन्हें बधाई दी एवं उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। सीएम द्वारा उन्हें प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना के तहत 25 हजार रूपए लैपटाॅप खरीदी के लिए दिए हैं। बता दें कि खुशी सिंह ने 97.2 प्रतिशत हासिल किए थे।

इसी तरह रीवा के ही कृष्ण कुमार केवट से भी सीएम शिवराज ने संवाद किया। कृष्ण कुमार ने 12वीं में 82.08 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। कृष्ण के हाथ नहीं है उन्होंने पैरों से लिखकर यह स्थान अर्जित किया है। सीएम ने उनसे सीधे संवाद करके उनका हाल जाना और बधाई देते हुए लैपटाॅप योजना से सम्मानित किया है। सीएम ने कृष्ण कुमार के इलाज एवं आगे की पढ़ाई की व्यवस्था किए जाने का भी आश्वासन दिया है।

सतना ये हुए सम्मानित

सतना जिले से प्रतिभाशाली विद्याथी प्रोत्साहन योजना के तहत कीर्ति कुशवाहा को भी इस योजना का लाभ मिला है। कीर्ति ने 12वीं में 94.04 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। बेटी कीर्ति दृष्टिबाधित हैं। बावजूद इसके उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत एवं लगन से प्रदेश में अपना नाम दर्ज कराया है। सीएम ने उन्हें इस उपलब्धि पर बधाई देते हुए लैपटाॅप योजना से सम्मानित किया है। साथ ही सीएम ने उनके आंखों के इलाज एवं आगे की पढ़ाई की भी व्यवस्था किए जाने का आश्वासन दिया है।

सिंगरौली: गाड़ी का कांच तोड़ निकाले 5 लाख रुपये, चोर हुए चंपत

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: FacebookTwitterWhatsAppTelegramGoogle NewsInstagram