BIG NEWS: Scindia ने टाल दिया मंत्रिमंडल विस्तार, भाजपा में मचा हड़कंप

ज्योतिरादित्य सिंधिया की जीत लगभग तय, आज खाली हो रही हैं ये सीटें

मध्यप्रदेश

ज्योतिरादित्य सिंधिया की जीत लगभग तय, आज खाली हो रही हैं ये सीटें

भोपाल. मध्यप्रदेश में ये पहला मौका है जब राज्यसभा की तीन सीटें खाली ही रहेंगी। इनका कार्यकाल 9 अप्रैल को खत्म हो रहा है। कांग्रेस के दिग्विजय सिंह, भाजपा के प्रभात झा और सत्नारायण जाटिया का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इन सीटों पर 26 मार्च को चुनाव होना था, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण इसे टाल दिया गया। चुनाव की अगली तारीख अभी घोषित नहीं हुई है।

MP में LOCKDOWN हटाने की तैयारी शुरू, ये 3 फार्मूले होंगे लागू

आज खाली हो रही हैं ये सीटें

मध्यप्रदेश के साथ कुल 12 राज्य ऐसे हैं, जहां पर राज्यसभा की सीटें खाली रह जाएंगी। यानी इन राज्यों की राज्यसभा सीटों के कार्यकाल भी प्रदेश की सीटों के साथ नौ अप्रैल को खाली हो रहा है। इन राज्यों में गुजरात, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, बिहार, हिमाचल प्रदेश, राज्सथान, झारखंड और मणिपुर शामिल है। राज्यसभा की 55 सीटें इस महीने खाली हो रही हैं।

इनको करना होगा इंतजार

दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा सदस्य बनने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह और फूल सिंह बरैया राज्यसभा के उम्मीदवार हैं। वहीं, भाजपा की तरफ से ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी को उम्मीदवार बनाया गया है।

क्या कहना है संविधान विशेषज्ञों का
भगवानदेव इसराणी ने बताया कि, ऐसा प्रदेश में कबी नहीं हुआ जब राज्यसभा की सीटें रिक्त हों और खाली रह जाएं। वहीं, संविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप का कहना है कि, लोकसभा, राज्यसभा या विधानसभा की सीट रिक्त होने के छह माह में चुनाव हो जाना चाहिए, लेकिन विशेष परिस्थितियां है तो चुनाव टाले जा सकते हैं। चुनाव आयोग ने इनको टाला है।

सिंधिया की जीत तय
राज्यसभा चुनाव के लिए भाजपा ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को उम्मीदवार बनाया है। ज्योतिरादित्य सिंधिया की जीत तय है। क्योंकि ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा के पहली वरीयता के उम्मीदवार है। वहीं, कांग्रेस से दिग्विजय सिंह की जीत तय मानी जा रही है। अब दोनों नेता राज्यसभा में दिखाई देंगे। ये पहला मौका होगा जब ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह एक ही सदन में बैठेंगे।

कांग्रेस को नुकसान
राज्यसभा की खाली हो रही सीटों में अभी तक कांग्रेस को दो सीटें मिलती हुई दिखाई दे रहीं थी, लेकिन अब समीकरण बिगड़ गया है और भाजपा के खाते में दो सीटें जाती हुई दिखाई दे रही हैं। भाजपा के दोनों उम्मीदवार, ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी का राज्यसभा जाने का रास्ता साफ हो गया है जबकि कांग्रेस की तरफ से केवल दिग्विजय सिंह ही राज्यसभा पहुंच रहे हैं। कांग्रेस के दूसरे उम्मीदवार फूल सिंह बरैया राज्यसभा चुनाव की दौड़ से बाहर हो गए हैं।

Facebook Comments