सर्दियों में इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं फटेंगे होंठ

सर्दियों में इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं फटेंगे होंठ

लाइफस्टाइल

सर्दियों में इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं फटेंगे होंठ

सर्दियों का मौसम शुरू हो चुका हैं। सर्दियों में शरीर का अच्छे से ख्याल रखना पड़ता है। इस मौसम में सर्द हवाएं त्वचा को रूखा कर देती हैं। ऐसे में त्वचा को रूखिल होने से बचाने के लिए हम तरह-तरह के उपाय करते हैं। सर्दियों के मौसम में कई लोगों के होंठ, फटने शुरू हो जाते है।

ऐसे में इन सबसे बचने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय करते हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे जरूरी टिप्स देने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप इन सब चीजों से बच सकते हैं। तो चलिए जानते है क्या है घरेलू टिप्प जिनके माध्यम से आप अपने होठों को फटने से बचा सकते हैं।

जानकारों की माने तो होंठो को फटने से बचाने के लिए घर में ही कई तरह की चीजें उपलब्ध हैं। लेकिन जानकारी न होने की वजह से हम बाजार की तरफ भागते हैं। और पैसे खर्च करके महंगी-महंगी क्रीम लेकर आते हैं। कभी-कभार ऐसा भी देखने को मिला है कि ये महंगी क्रीमों हमारे होंठों को साफ्ट नहीं बना पाती हैं। ऐसे में जरूरी है कि क्रीम लेने से पहले आप अपने घर में ही मौजूद साम्रगियों से फटे होंठों को साफ्ट बनाने की कोशिश करें।

घरेलू टिप्स

फटे होठों को साफ्ट बनाने के लिए देशी घी एवं मलाई काफी लाभकारी है। सर्दियों के मौसम में घेसी घी अथवा मलाई लेकर हल्कि उंगलियों से होंठों पर मसाज करें। ऐसा कुछ समय तक करने फटे होंठ चिकने होंने लगते है और किसी भी तरह का साइडफेक्ट भी नहीं होता है। होंठ फटने के लिए पीछे एक वजह यह भी हो सकती है कि आपके शरीर में पोषक तत्व की कमी हो। लिहाजा हो सके तो अपने खाने में पोषक तत्व को शामिल करें।

लिप बाम का करें उपयोग

सर्दी का मौसम ही ऐसा कि जिन लोगों के होंठ नहीं भी फटते है वहीं भी फटना शुरू हो जाता हैं। ऐसे में फटे होठों को साफ्ट बनाने के लिए आजकल मार्केट में सस्ती एवं छोटी सी छोटी क्रीम लिप बाम आने लगी है। जिसे लेकर आप समय-समय पर अपने होठों को साफ्ट बना सकती हैं।

पानी का करें सेवन

ठण्ड के मौसम में प्यास कम लगती है। जिससे लोग पानी का सेवन कम करते हैं। जिसके कारण शरीर में पानी की कमी होने लगती है। शरीर में पानी की कमी भी होंठ फटने का प्रमुख कारण हो सकता हैं। ऐसे में होठों को फटने से बचाने के लिए पानी का पर्याप्ता मात्रा में सेवन करें।

आपको बता दें कि ज्यादातर लोग जब होंठ रूखिल होने लगते है तो अपनी जीभ के माध्यम से उसे चिकना करने की कोशिश करते हैं। लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए। जानकारों की माने तो ऐसा करने से होठ और तेजी से सूखने एवं रूखिल होने लगते हैं।
बता दें कि यह लेख सिर्फ जानकारी साझा करने के लिए शेयर किया गया है। इन पर अमल करने से पहले चिकित्सक से सलाह जरूर लेवें।

अस्थमा एवं सांस संबंधित बीमारियों में काफी राहत देता है कपालभांति प्रणायाम, जानिए करने की विधि

ख़बरों की अपडेट्स पाने के लिए हमसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भी जुड़ें: Facebook | WhatsApp | Instagram | Twitter | Telegram | Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *