लाइफस्टाइल

इस तरह की नौकरी करने वाले पुरुषों में बढ़ती जा रही नपुंसकता, पढ़िये कही आप भी तो नहीं हो रहे शिकार

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:57 AM GMT
इस तरह की नौकरी करने वाले पुरुषों में बढ़ती जा रही नपुंसकता, पढ़िये कही आप भी तो नहीं हो रहे शिकार
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat
आज की भागदौड़ भरी जिंदगी और पैसा कमाने की होड़ में फंसकर युवा पुरुष अपनी मर्दानगी खोता जा रहा है। कुछ ऐसे काम है जिनकी वजह से जाने अनजाने में पुरुष में शारीरिक दुर्बलता आती है। लेकिन वह इन सब चीजों से अनजान होता है और धीरे-धीरे बांझपन का शिकार हो जाता है। उसको अपनी गलती का अहसास तब होता है जब वह इस बीमारी की पूर्ण गिरफ्त में आ जाता है। फिर इस बीमारी का निदान चिकित्सक भी नहीं कर पाते है। आज हम आपको बता रहे है कि किस प्रोफेशन्स में पुरुष को कितना कार्य करना चाहिए ताकि वह पौरुषता कायम रह सके। ये तीन प्रोफेशन्स पर कुछ दिन पहले वैज्ञानिकों ने रिसर्च भी किया है। जिसमें पुरुषों में नपुंसकता बढऩे का खतरा बताया था।
1. जिम ट्रेनर और एथलीट
अपने आसपास हम जिम ट्रेनर और एथलीट को सबसे ज्यादा फिट मानते है। कारण वह चुस्त और दुरस्त रहते है। फिटनेस के कारण गलत उम्मीद नहीं की जा सकती है। ज्यादातर लोगों का मानना है कि इनमे सेक्स पावर भी अच्छा होता होगा। मगर असल में यह गलत भी हो सकता है। ये लोग अपने इस प्रोफेशन की वजह से घंटों तक लगातार काम करते है। इस वजह से टेस्टोस्टेरोन को नुकसान पहुंचता है। फिर धीरे-धीरे शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ जाती है।
2. वेल्डर
अक्सर हम लोग ज्यादातर जगहों में वेल्डिंग का कार्य करते पुरुषों को ही देखते होंगे। लेकिन जो पुरुष वेल्डिंग का काम 5 घंटे से ज्यादा समय तक करते है उनके लिए नुकसान दायक भी हो सकता है। कारण, वेल्डिंग करते समय निकलने वाली हानिकारक किरणें पुरुषों के निजी पार्ट के संपर्क में आती रहती है। जिसकी वजह से उनके शुक्राणु क्षतिग्रस्त हो जाते है। ऐसा काम काफी दिनों तक करने से शुक्राणुओं की संख्या में कमी पाई जाने लगती है।
3. साइकिल चलाना
जो लोग शरीर को फिट रहने के लिए ज्यादातर दूरी तक साइकिल चलाते है उनके लिए ये खबर बुरी भी हो सकती है। हालांकि कुछ मिनटों और घंटों में नुकसान नहीं है। लेकिन जो लोग साइकिल का उपयोग सबसे ज्यादा करते है या फिर 5 घंटे से ज्यादा साइकिल चलाते है। उनमे ये खतरा हो सकता है। विशेषज्ञ चिकित्सकों की मानें तो 5 घंटे से ज्यादा साइकिल चलाने पर शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ सकती है। उनके वैवाहिक जीवन पर भी असर पड़ सकता है।
Next Story
Share it