अन्य

ऑपरेशन में महिला की 'श्लोक शक्ति' को डॉक्टर ने किया सलाम,कहा 9 हजार ऑपरेशन में यह पहला केस

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:42 AM GMT
ऑपरेशन में महिला की श्लोक शक्ति को डॉक्टर ने किया सलाम,कहा 9 हजार ऑपरेशन में यह पहला केस
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

ऑपरेशन में महिला की श्लोक शक्ति को डॉक्टर ने किया सलाम,कहां 9 हजार आपरेशन में यह पहला केस

अहमदाबाद। भगवान की भक्ति में शक्ति की कहावत को भी चरितार्थ करती है अहमदाबाद की 36 वर्षीय महिला मरीज दया भरतभाई बुधेलिया। उसकी सफल ओपन सर्जरी की गई। चौंकाने वाली बात यह रही कि सर्जरी के वक्त दयाबेन गीता के श्लोकों का जाप कर रही थीं। सर्जरी करीब सवा घंटे तक चली और एक घंटे तक डॉक्टर्स उनके मुंह से गीता से श्लोक सुनते रहे।

दिमाग में थी गांठ

बताते है कि सूरत की रहने वाली दयाबेन बुधेलिया के मस्तिष्क में खिंचाव आ गया था। मेडिकल जांच में उनके मस्तिष्क में गांठ होने की बात सामने आई। गांठ ऐसी जगह थी, जिससे लकवा का खतरा था। इसके बाद सर्जरी की तैयारी की गई। 23 दिसंबर को न्यूरो सर्जन डॉ़. कल्पेश शाह और उनकी टीम ने ऑपरेशन किया। सर्जरी गंभीर थी, इसलिए मरीज का होश में रहना जरूरी था।
यह बात दयाबेन को बताई गई, उन्होंने डॉक्टर्स से गीता के श्लोक बोलने की मंजूरी मांगी। इसके बाद सर्जरी पूरी होने तक दयाबेन श्लोकों का जाप करती रहीं और उनकी सफल सर्जरी भी हो गई।

डॉक्टर हैरान

महिला की सर्जरी करने वाले डॉ. कल्पेश शाह ने बताया कि उन्होने अब तक 9 हजार से ज्यादा ओपन सर्जरी की हैं, लेकिन ब्रेन सर्जरी के दौरान मरीज द्वारा गीता के श्लोक गुनगुनाने का यह पहला मामला देखा। मस्तिष्क से गांठ निकालने में हमें करीब सवा घंटे का वक्त लगा। इस दौरान उन्हें अवेक एनेस्थेसिया दिया गया था, जिससे वह होश में रहे। सर्जरी के तीन दिन बाद ही दयाबेन को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया।

Next Story