कटनी

करंट लगाकर वन्य प्राणिणों की ले रहे जान, दो युवकों की हो चुकी है मौत

News Desk
7 March 2021 10:16 AM GMT
करंट लगाकर वन्य प्राणिणों की ले रहे जान, दो युवकों की हो चुकी है मौत
x
कटनी। करंट लगाकर वन्य प्राणियों के साथ ही आम लोगों को भी मौत के घाट उतारा जा रहा है, लेकिन प्रशासन ऐसे लोगों पर ठोस कार्रवाई नहीं कर रहा है। हाल ही में करंट से दो युवाओं की मौत हो चुकी है। बताया गया है कि वन्य प्राणियों के शिकार के लिये लगाए गए करंट में आम लोग भी फंस जाते हैं। जानकारी अनुसार ग्राम सुड्डी कुंडम परियोजना आरक्षित वन परिक्षेत्र से लगे हुए कृषि भूमि में करंट लगाकर जंगली पशुओं का शिकार करने वाले एक आरोपित को वन विभाग ;कुंडम प्रोजेक्टद्ध की टीम ने गिरफ्तार किया है। आरोपित से कुंडम प्रोजेक्ट वन विभाग द्वारा पूछताछ की जा रही है और इस अपराध में संलिप्त अन्य लोगों के बारे में पता लागाया जा रहा है।

कटनी। करंट लगाकर वन्य प्राणियों के साथ ही आम लोगों को भी मौत के घाट उतारा जा रहा है, लेकिन प्रशासन ऐसे लोगों पर ठोस कार्रवाई नहीं कर रहा है। हाल ही में करंट से दो युवाओं की मौत हो चुकी है। बताया गया है कि वन्य प्राणियों के शिकार के लिये लगाए गए करंट में आम लोग भी फंस जाते हैं। जानकारी अनुसार ग्राम सुड्डी कुंडम परियोजना आरक्षित वन परिक्षेत्र से लगे हुए कृषि भूमि में करंट लगाकर जंगली पशुओं का शिकार करने वाले एक आरोपित को वन विभाग ;कुंडम प्रोजेक्टद्ध की टीम ने गिरफ्तार किया है। आरोपित से कुंडम प्रोजेक्ट वन विभाग द्वारा पूछताछ की जा रही है और इस अपराध में संलिप्त अन्य लोगों के बारे में पता लागाया जा रहा है।

वन विभाग कुंडम प्रोजेक्ट के अफसरों के मुताबिक मुखबिर की सूचना पर दबिश देकर कार्रवाई की गई है। मुखबिर से वन विभाग ;कुंडम प्रोजेक्टद्ध 2 मार्च को सुबह 2 बजे यह सूचना मिली थी कि ग्राम सुड्डी में आरक्षित वन परिक्षेत्र से लगे हुए कृषि भूमि में कुछ लोगों द्वारा चीतल का शिकार किया गया है। खबर मिलने पर कुंडम वन परीक्षेत्र की रेंजर त्रिवेणी बड़कड़े के मागदर्शन पर कुंडम प्रोजेक्ट के सहायक परियोजना परिक्षेत्र अधिकारी तिमरेश इवने ने वन अमले की टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर तस्दीक के लिए भेजा। टीम ने पतासाजी करते हुए मिथिलेश सिह गोंड 25 वर्ष निवासी सुड्डी आरोपी को गिरप्तार कर रंगे हाथों पकड़ लिया है।

आरोपी के खिलाफ वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धाराकेे अंतर्गत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।कार्रवाई के बाद शिकारी युवक को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। बताया जाता है कि कार्यवाही के बाद अन्य शिकारी फरार हो गए हैं। डिप्टी रेंजर ने बताया कि वन जीवों का शिकार करने वाले शिकारियों को पकड़ने के लिए वन विभाग द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है।

पिछले माह हुई दो घटनाएं

बीते 23 फरवरी को एक घटना में बाइक सवार पिता.पुत्र में से पुत्र की करंट प्रवाहित तार के संपर्क में आकर मौत हो गई और बाइक जलकर खाक हो गई जबकि छिटक कर दूर जा गिरने के कारण पिता हादसे का शिकार होने से बाल.बाल बच गया। ग्राम पंचायत भनपुरा निवासी 35 वर्षीय अरविंद मौर्य पिता अशोक मार्य को बाइक में पीछे बैठाकर कहीं से घर वापस लौट रहा था। उसी दौरान वह बीच रास्ते में शिकारियों के द्वारा जंगली जानवरों के शिकार के लिए बिछाए गए करंट प्रवाहित तार के संपर्क में आ गया। इस दौरान करंट का जोरदार झटका लगते ही पिता अशोक मौर्य तो छिटक कर दूर जा गिरा जबकि पुत्र अरविंद बाइक सहित करंट के संपर्क में आ गया। जिसके कारण बाइक सहित अरविंद बुरी तरह झुलस गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

इसके पूर्व निवार पुलिस चौकी के अंतर्गत ही ग्राम टिकरिया में घर से खेत पानी लगाने के लिए निकले एक युवा किसान नरेश सिंह की खेत की बाड़ में फैले करंट की चपेट में आकर मौत हो गई थी। इसके बाद खेत की बाड़ में करंट लगाने वाले किसान व उसके परिजनों ने उसकी लाश को दूर ले जाकर भी फेंक दिया था। बाद में पुलिस ने मामला दर्ज कर सभी को गिरफ्तार किया था। घटना के संबंध में पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने कहा कि निवार क्षेत्र में करंट से हो रही घटनाओं में अंकुश लगाने के लिए पुलिस को सख्त निर्देश दिये गये हैं। वहीं वन संरक्षक आरसी विश्वकर्मा ने कहा कि करंट से शिकार के मामले में वन विभाग लगातार कार्रवाई कर रहा है।

Next Story
Share it