जबलपुर

10 हजार रूपये की रिश्वत लेते नगर-निगम का कर्मचारी ट्रेप, अतिक्रमण की शिकायत को निपटाने मांगे थें 50 हजार

Aaryan Dwivedi
29 July 2021 7:52 PM GMT
10 हजार रूपये की रिश्वत लेते नगर-निगम का कर्मचारी ट्रेप, अतिक्रमण की शिकायत को निपटाने मांगे थें 50 हजार
x
जबलपुर। नगर निगम के अतिक्रमण विभाग में पदस्थ शाखा प्रभारी उमेश सोनी को लोकायुक्त जबलपुर की टीम ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रेप किया है। पकड़े गऐ निगमकर्मी के खिलाफ लोकायुक्त ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई की है।

जबलपुर। नगर निगम के अतिक्रमण विभाग में पदस्थ शाखा प्रभारी उमेश सोनी को लोकायुक्त जबलपुर की टीम ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रेप किया है। पकड़े गऐ निगमकर्मी के खिलाफ लोकायुक्त ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई की है।

50 हजार रूपये की मांग की थी

लोकायुक्त के अधिकारियों ने बताया कि शिकायत कर्त्ता दुर्गेश चौधरी से नगर-निगम कर्मचारी ने भवन निर्माण के दौरान डेढ़ फ़िट जमीन न छोड़ने के एवज में रिश्वत मांगी थी।
बताया जा रहा है कि श्री चौधरी के द्वारा घर बनाने के दौरान डेढ़ फिट जमीन नही छोड़ी गई थी। इसकी शिकायत ननि के अतिक्रमण शाखा में पहुची थी। जिस पर शाखा प्रभारी उमेश सोनी उक्त शिकायत को निपटने के एवज में जमीन दबाने वाले श्री चौधरी से रिश्वत के तौर पर 50 हजार रूपये की मांग किया था।

पैसे देने के दौरान पकड़ा गया ननि कर्मी

गुरूवार को शिकायत कर्त्ता श्री चौधरी ननि कार्यालय में उमेश सोनी को रिश्वत की रकम 10 हजार रूपये देने के लिये पहुचा था। जैसे ही उसने 500-500 की नोट ननि कर्मचारी को दिया, वहां मौजूद लोकायुक्त के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया।

कार्यालय में मच गई खलबली

ननि कार्यालय जबलपुर में घूसखोरी को लेकर की गई कार्रवाई की भनक लगते ही कार्यालय में खलबली मच गई। लोग इस कार्रवाई की जानकारी लेने में अतिक्रमण शाखा पहुच गये।

Next Story
Share it