इंदौर

Indore : इंटरनेट से लिया ज्ञान और बना डाले नकली इंजेक्शन, फिर हुआ ऐसा हाल

Viresh Singh Baghel
22 May 2021 10:01 PM GMT
Indore : इंटरनेट से लिया ज्ञान और बना डाले नकली इंजेक्शन, फिर हुआ ऐसा हाल
x
इंदौर (Indore News) :  नकली कारोबार के गोरखधंधे का समय-समय पर भंडाफोड़ हुआ है। ऐसे ही एक मामले का खुलासा पुलिस ने किया है। जंहा आरोपियो ने इंटरनेट से ज्ञान प्राप्त किये और नकली इंजेक्शन बना कर लोगो के जीवन से खिलवाड़ करते रहे। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने इंजेक्शन बनाने की सारी जानकारी इंटरनेट से जुटाई थी। 

इंदौर (Indore News) : नकली कारोबार के गोरखधंधे का समय-समय पर भंडाफोड़ हुआ है। ऐसे ही एक मामले का खुलासा पुलिस ने किया है। जंहा आरोपियो ने इंटरनेट से ज्ञान प्राप्त किये और नकली इंजेक्शन बना कर लोगो के जीवन से खिलवाड़ करते रहे। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने इंजेक्शन बनाने की सारी जानकारी इंटरनेट से जुटाई थी।

ज्ञात हो कि इन दिनों रेमडियल इंजेक्शन की देश भर में सबसे ज्यादा जरूरत है और आरोपियों ने इसका पूरा फायदा उठाने का प्लान बना डाले।

4 आरोपी से पूछताछ

इंदौर के विजय नगर पुलिस ने सूरत से आरोपी सुनील मिश्रा, कुलदीप, पुनीत शाह और कौशल वोरा से इंदौर में पूछताछ की है। उन्होने बताया कि मोरबी में किराए के फार्म हाउस पर ग्लूकोज से यह इंजेक्शन बनाए थे।

मेडिकल लाइन से जुड़े थे आरोपी

सभी आरोपी मेडिकल लाइन से जुड़े थे, इसलिए पुनीत कौशल और सुनील मिश्रा ने नकली इंजेक्शन बनाने का प्लान बनाया। इसके बाद इंटरनेट की सहायता से हेटरो कंपनी का इंजेक्शन देखा। फिर उसे खरीदने के लिए मुंबई भी गए थे।

बेच दिए 5 हजार इंजेक्शन

एसपी श्री बागरी ने मीडिया को बताया कि पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होने 5000 नकली इंजेक्शन बाजार में बेच है। 35 सौ रूपये से कम दाम में किसी को भी नहीं दी है। उस हिसाब से आरोपियों ने लाखो रूपये नकली इंजेक्शन से कमा है। पुलिस सभी से अभी और पूछताछ कर रही है।

Next Story
Share it