इंदौर

इंदौरियों को सांस देने IAF ने सम्हाली कमान / इंदौर से खाली ऑक्सीजन टैंकर लेकर जामनगर जाएगा वायुसेना का विमान

Aaryan Dwivedi
23 April 2021 6:15 PM GMT
इंदौरियों को सांस देने IAF ने सम्हाली कमान / इंदौर से खाली ऑक्सीजन टैंकर लेकर जामनगर जाएगा वायुसेना का विमान
x
मध्य प्रदेश के इंदौर में रोजाना ऑक्सीजन की खपत (Oxygen consumption in Indore) बढ़ती जा रही है. यहां राज्य में सबसे अधिक कोरोना संक्रमित (COVID-19 Infected) मिल रहें हैं, जिसकी वजह से ऑक्सीजन की खपत हर दिन 100-110 टन पर पहुंच गई है. इसके लिए इंडियन एयरफोर्स (Indian Airforce) ने कमान सम्हाली है. सेना ने इंदौरियों की जिंदगी के लिए ऑक्सीजन की उपलब्धता का बीड़ा उठाया है.

मध्य प्रदेश के इंदौर में रोजाना ऑक्सीजन की खपत (Oxygen consumption in Indore) बढ़ती जा रही है. यहां राज्य में सबसे अधिक कोरोना संक्रमित (COVID-19 Infected) मिल रहें हैं, जिसकी वजह से ऑक्सीजन की खपत हर दिन 100-110 टन पर पहुंच गई है. इसके लिए इंडियन एयरफोर्स (Indian Airforce) ने कमान सम्हाली है. सेना ने इंदौरियों की जिंदगी के लिए ऑक्सीजन की उपलब्धता का बीड़ा उठाया है.

इंदौर से खाली ऑक्सीजन टैंकर लेकर वायुसेना का विमान जामनगर के लिए रवाना होगा और टैंकर ऑक्सीजन लेकर जामनगर से इंदौर सड़क के रास्ते लौटेगा. इसमें 12 घंटे का समय बचेगा, साथ ही कई मरीजों की जान बच सकेगी.

बताया जा रहा है जामनगर-इंदौर के बीच आने जाने में टैंकर को करीब 12-12 घंटे का समय लगता है. अगर खाली टैंकर वायुसेना के विमान के माध्यम से जामनगर पहुंचेगा तो उसमें महज 1 घंटे का ही समय लगेगा और ऑक्सीजन से भरा टैंकर जामनगर से इंदौर वापस सड़क मार्ग से लाने पर 12 घंटे का. यानी 24 घंटे की बजाय टैंकर के आवागमन में अब 13 घंटे का ही समय लगेगा. विमान हर तीन घंटे में जामनगर से वापस आकर फिर एक खाली टैंकर लेकर इंदौर से जामनगर जाएगा.

मांग 100-110 टन और आपूर्ति 75 से 80 टन की

इंदौर में बढ़ते संक्रमितों के चलते रोजाना ऑक्सीजन की मांग 100 से 110 टन तक की हो रही है. जबकि आपूर्ति 75 से 80टन की हो रही है. , जो मांग से 25-30 फीसदी कम है. इसके चलते हर दो-दो घंटे में ऑक्सीजन खत्म होने का संकट खड़ा हो रहा है.

आर्मी से प्रदेश सरकार ने मांगी थी मदद

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चार दिन पहले सेना से मदद मांगी थी. उन्होंने सुदर्शन कोर कमांडर अतुल्य सोलंकी व बिग्रेडियर आशुतोष शुक्ला के साथ बैठक हुई.

जानकारी के मुताबिक आर्मी के अफसरों ने भोपाल, जबलपुर, सागर व ग्वालियर में 430 बेड अस्पतालों व आइसोलेशन सेंटर देने का भरोसा दिया. इसमें से भोपाल में 150, जबलपुर में 100, सागर में 40 और ग्वालियर में 40 बेड की व्यवस्था की जाएगी. आर्मी के अफसरों ने मरीजों की देखभाल के लिए पैरामेडिकल स्टाफ उपलब्ध कराने के लिए भी आश्वस्त किया.

indian airforce aircraft carrying oxygen tankers from indore to jamnagar

Next Story
Share it