इंदौर

सत्ता खोने के बाद Congress के पूर्व मंत्री Jitu Patwari को Kamalnath ने दी अहम् जिम्मेदारी, जीत के फॉर्मूले पर काम, पढ़िए !

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:18 AM GMT
सत्ता खोने के बाद Congress के पूर्व मंत्री Jitu Patwari को Kamalnath ने दी अहम् जिम्मेदारी, जीत के फॉर्मूले पर काम, पढ़िए !
x
भोपाल प्रदेश में सत्ता खोने के बाद कांग्रेस congress ने अब उप चुनाव पर अपना फोकस कर दिया गहै इसकी शुरुआत पूर्व सीएम और

सत्ता खोने के बाद Congress के पूर्व मंत्री Jitu Patwari को Kamalnath ने दी अहम् जिम्मेदारी, पढ़िए !

भोपाल. प्रदेश में सत्ता खोने के बाद कांग्रेस (congress) ने अब उप चुनाव पर अपना फोकस कर दिया गहै. इसकी शुरुआत पूर्व सीएम और पीसीसी चीफ कमलनाथ ने कर दी है. 24 सीटों पर होने वाले उपचुनाव (by elections) से पहले कमलनाथ (kamalnath) ने मीडिया विभाग की अहम जिम्मेदारी पूर्व मंत्री और मौजूदा कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (jitu patwari) को दे दी है. जीतू पटवारी इस समय कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष भी हैं. पार्टी ने अब उन्हें मीडिया विभाग की जिम्मेदारी सौंपकर अपने मीडिया कैंपेन को मजबूत कराने कोशिश शुरू की है. जीत के फॉर्मूले पर काम पीसीसी चीफ कमलनाथ के इस फैसले को आगामी उपचुनाव से पहले उठाया गया बड़ा कदम माना जा रहा है. कोरोना वायरस कर्फ्यू के दौरान पूर्व सीएम कमलनाथ इन दिनों खाली हुई 24 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस की जीत के फॉर्मूले पर काम कर रहे हैं. इसी के तहत कमलनाथ ने जीतू पटवारी को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है. इससे पहले कांग्रेस मीडिया विभाग की जिम्मेदारी शोभा ओझा संभाल रही थीं जिन्हें तत्कालीन कमलनाथ सरकार ने अपने विदा होने से ठीक पहले राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंप दी थी. उसके बाद से कांग्रेस मीडिया विभाग अध्यक्ष का पद खाली था. मीडिया मैनेजमेंट पर फोकस

कमलनाथ ने मीडिया विभाग के प्रमुख की जिम्मेदारी जीतू पटवारी को सौंप कर अपने मीडिया मैनेजमेंट को बेहतर बनाने और कांग्रेस की नीति रीति को प्रदेश में फैलाने के प्लान पर काम करना शुरू कर दिया है. पुरानी गलतियों से सबक लेते हुए कांग्रेस पार्टी आगामी उपचुनाव में एक बेहतर प्लान के साथ उतरने की कोशिश में है और यही कारण है कि इसकी शुरुआत कांग्रेस में मीडिया विभाग में जीतू पटवारी की नियुक्ति के साथ कर दी है. पटवारी पर भरोसा कांग्रेस सरकार में जीतू पटवारी अहम रोल में थे और कई बार वह सरकार को बचाने के लिए मैदान में मोर्चा संभालते हुए नजर आते थे.जीतू पटवारी बागी कांग्रेस विधायकों को लेने बेंगलुरु भी भेजे गए थे. ऐसे में अब पार्टी ने उन्हें बड़ी जिम्मेदारी सौंपकर अपने प्लान पर काम शुरू करने के संकेत दे दिए हैं.

Next Story