इंदौर

स्कूटी से जा रही दो युवतियों के ऊपर पलटा कंटेनर, इस हाल में मिला शव

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:58 AM GMT
स्कूटी से जा रही दो युवतियों के ऊपर पलटा कंटेनर, इस हाल में मिला शव
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

सिंगरौली। मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में हुए एक भीषण सड़क हादसे में सिंगरौली जिला के निगाही निवासी युवती की मौत हो गई। बताया गया कि आफिस से नाइट शिफ्ट में काम खत्म कर शुक्रवार अलसुबह इंदौर में अपने घर लौट रही निगाही की बेटी की सड़क हादसे में मौत हो गई। हादसे की जानकारी मिलते ही सीधी और सिंगरौली दोनों ही जिलों के निवासियों और परिचितों में शोक व्याप्त हो गया। परिजन इंदौर रवाना हो गए, वे सुबह तक इंदौर पहुंचेंगे। उसके साथ आईटी कंपनी में कार्यरत जबलपुर निवासी एक और साथी की मौत हुई है।

जानकारी के अनुसार खजराना चौराहे पर 20 टन माल से भरा कंटेनर तेज रफ्तार में स्कू टी पर जा रही दोनों साथियों पर पलट गया, जिसमें दोनों दब गई। डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद क्रेन उठाकर शव को निकाला। सुबह 5.30 बजे हुए हादसे के बाद अफरा-तफरी मच गई। लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम को जानकारी दी। कंटेनर के नीचे से खून रिसकर आया तब लोगों को किसी के दबे होने की जानकारी मिली। यातायात विभाग की दो व एक निजी क्रेन को बुलाया। तीनों क्रेन आने में एक घंटा लगा। कंटेनर को तीनों क्रेन मिलकर भी नहीं उठा पा रही थी।

मौके पर मौत

काफी मुश्किल के बाद थोड़ा सा उपर ही क्रेन उठ पाई। तब पुलिसकर्मियों ने नीचे घुसकर शव को खींचा। पता चला कि नीचे दो शव है। दोनों शवों व स्कू टी को बाहर निकाला। दोनों युवतियों की मौके पर ही मौत हो गई थी। उनके पास मिले आईडी कार्ड से पहचान निकिता (28), सुमित्रा (24) पिता चंद्रमणि प्रसाद के रूप में हुई। दोनों किराए के मकान में गणेश पुरी कॉलोनी में रहती थी। एक हफ्ते पहले ही गीता भवन से दोनों खजराना शिफ्ट हुई थी।

परिजनों को सूचना दी गयी कंटेनर लॉक है तो पता नहीं चला कि उसमें क्या भरा है। गाड़ी नंबर से मालिक का पता कर पुलिस संपर्क करेंगी। एमआईजी पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू की है। जबलपुर की रहने वाली निकिता के पिता की इलेक्ट्रॉनिक उपकरण की दुकान है। उसकी सगाई होने वाली थी। भाई रवि दिल्ली में पढ़ाई कर रहा है, जो फ्लाइट से इंदौर पहुंचा। पोस्टमॉर्टम के बाद भाई व रिश्तेदार शव जबलपुर ले गए।

आईटी कंपनी में काम करती थी सुमित्रा निकिता व सुमित्रा पलासिया स्थित शेखर सेंट्रल में वर्टी सिस्टम ग्लोबल प्रा. लि में काम करती थीं। निकिता फॉरेन एचआर का काम देखती थी। रात 8 से सुबह 5 तक उनकी शिफ्ट थी। सुबह 5 बजे ऑफिस से घर के लिए निकलीं। खजराना चौराहे पर तेज रफ्तार कंटेनर को देख उन्होंने गाड़ी रोकी। इस दौरान कंटेनर ने ब्रेक लगाया, जिसके चलते कुछ दूरी तक टायर के निशान है। इसके बाद कंटेनर उन पर पलट गया।

Next Story
Share it