इंदौर

पड़ोसी को मार डाला ताकि उसकी पत्नी से .....

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 5:58 AM GMT
पड़ोसी को मार डाला ताकि उसकी पत्नी से .....
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

विजय नगर पुलिस ने डेढ़ माह पहले हुए अंधे कत्ल का खुलासा किया है। कुरियर कंपनी के कर्मचारी ने पड़ोसी को सिर्फ इसलिए मार डाला ताकि उसकी पत्नी से ममरे भाई की शादी करवाकर रुपए वसूले और कर्ज चुका सके।

विजय नगर पुलिस ने रविवार रात राहुल (21) पिता अनिल कुमार निवासी इसोटा (इलाहाबाद) की हत्या के आरोपित दीपक ठाकुर (23) निवासी रामनगर (विजय नगर) और ममेरे भाई दिनेश राजपूत (32) निवासी इटाया मंडी (सागर) को गिरफ्तार किया। सीएसपी जयंत राठौर ने बताया कि मृतक की पत्नी किरण ने 23 जुलाई को पति के गुम होने की शिकायत की थी। उसने बताया था कि पति 13 जुलाई को दीपक और दिनेश के साथ नौकरी की तलाश में गया था लेकिन लौटा नहीं। पूछने पर दोनों ने उसे बताया था कि पति की नौकरी लग गई है। वह छुट्टी मिलने पर लौटेगा लेकिन दस दिन तक पति से संपर्क नहीं हुआ। इस बीच सिमरोल पुलिस को 19 जुलाई को खंडवा रोड के जंगल में एक शव मिला था। उसके पास चश्मा और खून सना पत्थर पड़ा था। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू की।

टीआई सुनील अरझरिया ने बताया कि आरोपित दीपक अहाते में शराब पीते वक्त किसी को बता रहा था कि उसने भाई के साथ मिलकर राहुल की हत्या की है, जिसकी जानकारी किसी को नहीं है। मुखबिर से खबर मिलते ही पुलिस ने दीपक को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की। उसने बताया कि वह कुरियर कंपनी में काम करता है। जुआ खेलने की आदत से उस पर 75 हजार रुपए का कर्ज हो गया था। इसी दौरान ममेरा भाई दिनेश मिलने आया था। उसकी शादी नहीं हो रही थी। दोनों ने शादी के लिए कई मैरिज ब्यूरो से संपर्क किया। एजेंसी ने शादी का खर्च 50 हजार रुपए बताया था।

इलाहाबाद से आया था नौकरी की तलाश में

पुलिस को आरोपित ने बताया कि राहुल नौकरी की तलाश में कुछ दिन पहले ही पत्नी के साथ आया था। दोनों में दोस्ती हो गई थी। उसकी पत्नी से बातचीत होने लगी थी। उसने दोनों की मदद करने के लिए अपने एक दोस्त के घर पर किराए से कमरा दिलवा दिया था। आरोपित को लगा था कि अगर महिला के पति को रास्ते से हटा दिया तो मजबूरन महिला को दूसरी शादी करनी पड़ेगी। षड्यंत्र के तहत आरोपित राहुल को नौकरी का झांसा देकर साथ ले गया था।

भाई से 50 हजार रुपए लेकर शादी कराने का किया था वादा

आरोपित ने बताया कि ममेरे भाई से 50 हजार रुपए लेकर उसकी शादी कराने का वादा किया था, जिसे पूरा करने के लिए उसने साजिश रची। राहुल को दोनों भाई बाइक पर बैठाकर 13 जुलाई को ओंकारेश्वर दर्शन के लिए गए थे। लौटते वक्त तीनों ने जंगल में शराब पी। फिर आरोपितों ने राहुल की हत्या कर दी। पहले उसका गला घोटा। फिर बीयर की बोतल से सिर पर कई वार किए। पहचान न हो, इसके लिए पत्थर से चेहरा कुचल दिया और शव छोड़कर फरार हो गए।

कई बार रखा शादी का प्रस्ताव

आरोपित ने बताया कि हत्या करने के बाद दोनों लौट आए थे। मृतक की पत्नी को बता दिया कि राहुल की नौकरी लग गई है। वह कुछ दिन बाद लौटेगा। इस दौरान ममेरे भाई की शादी कराने के लिए कई बार मृतक की पत्नी किरण के सामने प्रस्ताव रखा। जब वह नहीं मानी तो दोनों बीना चले गए। कुछ दिनों बाद आरोपित दीपक लौट आया। पुलिस को आरोपित ने बताया कि वह भाई की शादी कराने के बदले मिलने वाले पैसों से कर्ज चुकाना चाहता था। इस वजह से उसने साजिश रची थी। पुलिस के मुताबिक किरण कुछ दिन पति का इंतजार करने के बाद ससुराल लौट गई थी। पुलिस ने उसे सूचना दे दी है। उससे भी पूछताछ की जाएगी। वारदात में उसकी भूमिका मिलने पर उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

Next Story
Share it