इंदौर

दामाद को था शक, उसकी पत्नी से सास कराती है देह व्यापार, तलवार लेकर पहुंचा घर और फिर...

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:09 AM GMT
दामाद को था शक, उसकी पत्नी से सास कराती है देह व्यापार, तलवार लेकर पहुंचा घर और फिर...
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

मध्यप्रदेश: रतलाम के बजरंग नगर में 1 महिला की 3 दिन पूर्व हुई नृशंस हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया. मृतिका का दामाद ही आरोपी निकला. अब आरोपी पुलिस गिरफ्त में है लेकिन हत्या के खुलासे में आरोपी के शातिर फिल्मी मर्डर प्लान से हर कोई हैरान रह गया. सबूत और गवाह छुपाने से लेकर पुलिस की जांच भटकाने तक आरोपी ने पूरी साजिश रची. लेकिन मोबाइल ने आरोपी को सलाखों के पीछे पहुंचा दिया. बजरंग नगर में एक महिला की नृशंस हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस ने हत्या का खुलासा किया. आरोपी मृतक महिला का दामाद निकला.

दरअसल मामला 3 दिन पूर्व गुरुवार रात का है. बजरंग नगर में रहने वाली महिला शोभा की बीते गुरुवार देर रात तलवार से हत्या किए जाने की जानकरी पुलिस को लगी. पुलिस घटना स्थलपर पहुंची तो घर मे महिला शोभा का शव खून से सना मिला घर मे मृतिका के बच्चे भी थे. पुलिस ने तफ्तीश शुरू की तो सामने आया कि महिला के पहले पति की दुर्घटना में मौत हो गयी थी.

महिला के 2 बच्चे थे लेकिन 3 साल पहले महिला के दूसरे पति गोपाल पाटीदार से भी 1 बच्चे के जन्म के बाद झगड़े शुरू हो गए और मृतिका महिला ने गोपाल से भरण पोषण का केस न्यायालय में दायर कर रखा था जो विचाराधीन था. हत्या को लेकर परिजनों ने भी दूसरे पति पर शंका जाहिर करते हुए कहा था कि घर से न्यायालय सम्बंधी दस्तावेज गायब है.

लेकिन पुलिस तफ्तीश में एक महत्वपूर्ण सुराख पुलिस के हाथ लगा. दरअसल घटना की रात घटना स्थल से एक नंबर से किसी व्यक्ति से बात की गई. जब इस नम्बर की तफ्तीश की तो यह मोबाइल मृतिका के दामाद बबलू का होना पाया गया. पुलिस को जब बबलू के घटना वाली रात में उसके गांव में नही होने की जानकारी सामने आयो तो आरोपि बब्लू से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की जिसमें आरोपी बब्लू ने अपनी सास शोभा की हत्या की बात कबूल की.

आरोपी बब्लू ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी मृतिका महिला शोभा की बड़ी बेटी से हो गयी थी लेकिन सास शोभा बेटी को पति बबलू के साथ नही भेज रही थी. वहीं आरोपी ने पुलिस को यह भी बताया कि बबलू को सास शोभा के अवैध सम्बन्ध की जानकारी मिली थी और सास शोभा अपनी बेटी जो बबलू की पत्नी थी उससे भी इस तरह से अवैध संबंध अन्य लागों से बनवा रही थी.

इसलिए आरोपी दामाद बबलू ने सास और बेटी दोनो की हत्या का शातिर प्लान बनाया. वारदात वाली रात आरोपी बबलू अपने गांव से बाइक लेकर नही बल्कि बस में रतलाम पहुँचा. इसके बाद एक शराब दुकान से बियर की बोतले ली फिर पैदल. रात 2 बजे सास शोभा के घर पहुंचा. जहां घर मे दाखिल होने से पहले उसने नकाब और हाथ मे दस्ताने पहने.

बारिश के कारण दरवाजे पूरे नही लग पाते थे इसकी जानकारी आरोपी को पहले थी आरोपी बबलू दरवाजे से चुपचाप घर मे दाखिल हुआ और शराब की बोतलें घर मे रखी. वही हत्या की जांच में पुलिस को गुमराह करने के लिए पहले सास शोभा के पति से विवाद वाले न्यायालय से संबंधित दस्तावेज चोरी किये और फिर सास शोभा पर तलवार से हमला किया.

इस दौरान मृतिका शोभा की बेटी और छोटे बच्चों की नींद खुली और उन्होंने शोर मचाना शुरू किया. जिससे घबराकर आरोपी भाग निकला. नकाब पहना होने के कारण आरोपी को उसकी पत्नी भी नहीं पहचान पाई. अगले दिन सुबह आरोपी बबलु घटना स्थल पर परिजनों के साथ मौजूद रहा.

अस्पताल मे पोस्टमार्टम व पुलिस कार्रवाई के दौरान भी आरोपी फरार होने के बजाए परिजनों के साथ शामिल रहा. जिससे पुलिस का ध्यान उसकी और न जाये. लेकिन बड़े शातिर फिल्मी मर्डर प्लान में आरोपी बबलू ने एक गलती की उसने घटना स्थल के पास से ही किसी से फोन पर बात की. और यह नंबर ट्रेस होने पर आरोपी बबलू पुलिस गिरफ्त में आ गया. और पुलिस की पुछताछ में हत्या करना कबुल कर लिया.

Next Story
Share it