इंदौर

चोरी की बुलेट को ऐसे ठिकाने लगाते थे कि पुलिस को क्रेन बुलानी पड़ गई

Aaryan Dwivedi
16 Feb 2021 6:05 AM GMT
चोरी की बुलेट को ऐसे ठिकाने लगाते थे कि पुलिस को क्रेन बुलानी पड़ गई
x
Get Latest Hindi News, हिंदी न्यूज़, Hindi Samachar, Today News in Hindi, Breaking News, Hindi News - Rewa Riyasat

इंदौर। कहते हैं शौक बड़ी चीज है, इसे पूरा करने के लिए कई बार लोग लगत रास्ता पर निकल पड़ते हैं। इंदौर में पुलिस ने ऐसे ही गिरोह को पकड़ा है, जो मौज मस्ती और शौक पूरा करने के लिए गाड़ियां चुराने लग गए। चोरी की इस वारदात को अंजाम देने वाले सभी छात्र हैं। पुलिस ने इनके पास से चोरी की 4 गाड़ियां बरामद की हैं। जिसमें से तीन बुलेट हैं। चोरी की गाड़ी को ठिकाने लगाने का इनका जो तरीका है, वो जानकर पुलिस भी सन्न रह गई। क्योंकि चोरी की गाड़ियों को ये इधऱ-उधर नहीं बल्कि कुएं में छुपा देते थे और कुछ वक्त बाद उसे कम कीमतों में बाजार में बेच देते थे। ऐसे में पुलिस को भी चोरी की गाड़ी बरामद करने के लिए क्रेन का सहारा लेना पड़ा। इस मामले में पुलिस ने दो छात्रों को गिरफ्तार किया है। वहीं अन्य और दो आरोपियों की तलाश भवरकुंआ पुलिस कर रही है।

ये है पूरा मामला पुलिस भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे चितावद निवासी दोस्तों से चोरी की बुलेट से मिलने आए बदमाशों को पुलिस ने जांच के दौरान मंगलवार रात पकड़ा था। सख्ती करने पर दोनों बदमाशों से चोरी की एक बाइक और तीन बुलेट बरामद हुई। गिरोह में शामिल दो बदमाश अभी भी फरार हैं। एक बदमाश कंजर गिरोह से जुड़ा हुआ है। भंवरकुआं टीआई संजय शुक्ला ने बताया कि आरोपित अर्जुन (19) पिता प्रभुलाल गुर्जर निवासी दुगनी थाना (उज्जैन) व पवन गुर्जर निवासी उज्जैन को गिरफ्तार किया है।

चितावद इलाके में पुलिस की टीम ने जांच के दौरान अर्जुन की बुलेट को रोका और दस्तावेज मांगे थे। थाने लाकर सख्ती से पूछताछ में उसने बताया कि गाड़ी चोरी की है। उसने बताया कि उसके गांव के कुछ दोस्त चितावद में रहकर पुलिस भर्ती परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। वह उन दोस्तों से मिलने और बुलेट दिखाने के लिए आया है। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर युवकों के घर पर दबिश दी। यहां दूसरा आरोपित पवन पुलिस को मिल गया।

आरोपित पवन ने पूछताछ में बताया कि उसने भोपाल से दो बुलेट चुराई थी। जिसे उसने रितिक और शेख अमीर दोनों निवासी शाजापुर को 30-30 हजार रुपए में बेच दी है। पुलिस ने पवन के बताए पते पर दबिश दी तो रितिक घर से फरार मिला। लेकिन उसके घर से चोरी की बुलेट बरामद हो गई, जबकि शेख अमीर ने चोरी की गाड़ी कुएं में छिपा दी थी। क्रेन से जरिए पुलिस ने उक्त बुलेट निकलवाई और बरामद कर ली।

Next Story
Share it