Health

कोहनी टकराने से करंट जैसा क्यों महसूस होता है? जानिए वजह

Akanskha Aditya Tiwari
5 Dec 2021 4:37 PM GMT
कोहनी टकराने से करंट जैसा क्यों महसूस होता है? जानिए वजह
x
कोहनी का किसी सतह से टकराने के बाद झनझनाहट महसूस होना एक प्रक्रिया है जिससे हर कोई वाकिफ है यह नर्व पर पड़ने वाले दवाब के कारण होता है.

क्या आपकी कोहनी (Elbow) किसी चीज़ से टकराने के बाद आपको करंट जैसा अनुभव होता है? या कुछ झनझनाहट (Sensation) सा मह्सूस होता है? कोहनी (Elbow) का विशेष हिस्सा कहीं टकरा जाता है तो हमारा दिमाग सुन्न पड़ जाता है और अंदर ही अंदर आपको झनझनाहट (Sensation) महसूस होती है, आप सभी के साथ ऐसा कभी न कभी तो जरूर हुआ होगा और आपके मन में सवाल भी आया होगा कि आखिर ऐसा क्यों होता है. आइये आज हम आपको बताएंगे कि आखिर ऐसा क्यों होता है.

इसे सामान्य बोलचाल में फनी बोन (funny bone) कहा जाता है. चिकित्सा विज्ञान की भाषा में बात करें तो फनी बोन (funny bone) असल में अल्नर नर्व (Ulnar nerve) होती है. यह बोन हमारी गर्दन ( coller bone ) कंधे और हाथों से होते हुए जाती है और कलाई के पास से टकराकर अनामिका ( ring finger ) और छोटी फिंगर पर खत्म होती है. दरअसल नर्व का काम मस्तिष्क से मिलने वाले संदेशों को शरीर के बाकी अंगों तक लाना और ले जाना है.

क्या है कारण?

शरीर के सम्पूर्ण तंत्रिका तंत्र (Nervous system) की तरह अल्नर नर्व (Ulnar nerve) का भी ज्यादातर हिस्सा हड्डियों, मज्जा और अस्थियों के बीच सुरक्षित रहता है. लेकिन कोहनी (Elbow) से गुजरने वाला हिस्सा केवल त्वचा और फैट से ढका रहता है, ऐसे में जैसे ही कोहनी कहीं से टकराती है तो सीधे इस नर्व पर पर झटका लगता है.

सीधे नर्व पर पड़ने वाला यह दवाब आपको तेज़ झनझनाहट (Sensation), गुदगुदी और दर्द का मिलाजुला अनुभव देता है.

Next Story
Share it