Health

खाली इंजेक्शन लगाने से इंसान के शरीर को हो सकता है भारी नुकसान, जाने कैसे?

Akanskha Aditya Tiwari
18 Nov 2021 4:33 AM GMT
खाली इंजेक्शन लगाने से इंसान के शरीर को हो सकता है भारी नुकसान, जाने कैसे?
x
इंजेक्शन शब्द जिसका नाम सुनते ही लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं.

इंजेक्शन (Injection) शब्द जिसका नाम सुनते ही लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते हैं. आपका भी सामना कभी न कभी इंजेक्शन (Injection) से तो हुआ ही होगा और अगर नहीं हुआ है तो डॉक्टर्स और नर्स को इंजेक्शन लगाते तो देखा ही होगा।

इंजेक्शन (Injection) लगाते वक्त आपने कभी गौर किया है की सिरिंज में भरी दवाई को लगाने से पहले उसकी कुछ बूँदें निकाल दी जाती है, हो सकता है कुछ लोगों को इसके पीछे का कारण पता हो. अगर नहीं भी पता तो आज हम आपको इसके पीछे का कारण बताते हैं.

दरअसल, इंजेक्शन (Injection) में दवाई भरते वक्त उसमे हवा के कुछ बुलबुले सिरिंज में आ जाते है जो हमारे शरीर (Body) में प्रवेश करते ही काफी घातक हो सकता है इस कारण इसको दवाई की कुछ बूंदों के साथ बाहर निकालना जरुरी होता है.

इतना घातक कैसे हो सकता है?

अगर इंजेक्शन (Injection) सिरिंज से हवा के बुलबुले निकाले बिना ही हमारे शरीर (Body) में लगा दिया जाए तो हवा का बुलबुला हमारे शरीर में प्रवेश कर जाता है जो रक्त के प्रवाह को ब्लॉक कर सकता है. मेडिकल साइंस में इसे एयर एम्बोलिस्म (Air embolism) कहते हैं.

वैसे तो यह एक जनरल प्रोसेस है. लेकिन यह शरीर (Body) के लिए काफी घातक भी हो सकता है. यह बुलबुले के आकार पर भी निर्भर करता है. अगर बुलबुले का आकार छोटा है तो यह ज्यादा दिक्क्त की बात नहीं है लेकिन इसका आकार बड़ा है तो यह हमारे लिए जानलेवा हो जाता है. ऐसे में ये बुलबुला शरीर (Body) में रक्त के साथ मस्तिष्क, ह्रदय या फेफड़ों में भी पहुंच सकता है जिससे ब्लॉकेज हो जाता है जिससे जान तक जा सकती है.

इसी प्रकार खाली इंजेक्शन (Injection) भी शरीर (Body) में लगाने से भारी मात्रा में हवा शरीर (Body) में प्रवेश कर जाती है जोकि घातक हो सकती है.

Next Story
Share it